Menu Close

टेनग्राम क्या होता है

18वीं सदी के मध्य में चीन के किसी व्यक्ति ने अमेरिका में रहने वाले एक बच्चे को जहाज से उपहार स्वरूप Tangram भेजा। 19वीं शताब्दी तक यह अमेरिका से यूरोप और फिर दुनिया भर में जाना जाने लगा। इस लेख में हम, टेनग्राम क्या होता है और इसके आविष्कार की कहानी को जानेंगे।

टेनग्राम क्या होता है

टेनग्राम क्या होता है

‘टेनग्राम’ एक पहेली खेल होता है जिसमें सात प्रकार के आकार के बोर्ड होते हैं जिन्हें एक दी गई आकृति बनाने के लिए एक साथ रखना होता है। चपटी आकृतियों को टैन कहते हैं। जो आकृति बनानी है उसकी केवल बाहरी रूपरेखा दी गयी होती है और अपनी कल्पना शक्ति का उपयोग करके सभी सात टुकड़ों का उपयोग करके वह आकृति बनानी होती है। इसमें सीमा रेखा के अंदर कोई खाली जगह नहीं होनी चाहिए या एक दूसरे पर आकृतियां नहीं लगानी चाहिए।

Tangram एक दिलचस्प खेल है। इसे आसानी से अपने साथ कहीं भी ले जाया जा सकता है और दूसरे बच्चों के साथ भी खेला जा सकता है। यह खेल मूल रूप से चीन में विकसित किया गया था, लेकिन यह कब हुआ, इसका ठीक-ठीक पता नहीं है। चीन से यह नौवीं शताब्दी में व्यापारिक जहाजों के माध्यम से यूरोप पहुंचा। यह कुछ समय के लिए यूरोप में बहुत लोकप्रिय हुआ और बाद में प्रथम विश्व युद्ध के समय बहुत लोकप्रिय हो गया। यह दुनिया में अपनी तरह का सबसे लोकप्रिय खेल है।

टेनग्राम की कहानी

माना जाता है कि ‘टेनग्राम’ का आविष्कार चीन में हुआ था। चीन में इसे ‘ची चिओ पेन’ के नाम से जाना जाता है। जैसे टेनग्राम एक दिलचस्प खेल है, वैसे ही इसके आविष्कार की कहानी भी है।

एक बार चीन के राजा के लिए उनके नौकर एक चौकोर शीशा ला रहे थे। संयोग से कांच टूट कर गिर गया, दिलचस्प बात यह थी कि कांच गिरने से सिर्फ टूटा नहीं बल्कि स्पष्ट रूप से सात टुकड़ों में बंट गया था। नौकरों ने कांच के सात टुकड़ों को वापस एक चौकोर आकार में मिलाने की बहुत कोशिश की।

हर बार नौकरों ने टुकड़ों को जोड़ने के लिए समायोजित किया, उन्हें एक नया आकार मिला। नौकरों ने इस खेल में खूब मस्ती की और कांच के इन सात टुकड़ों को पहेली के रूप में राजा को भेंट किया। राजा को भी यह खेल बहुत अच्छा लगा। धीरे-धीरे यह खेल पूरे चीन में खेला जाने लगा।

Tangram को बाजार से खरीदा जा सकता है या इसे घर पर भी किसी चौकोर गत्ते या गत्ते से बनाया जा सकता है। इसकी सात ज्यामितीय आकृतियों में पाँच त्रिभुज, एक वर्ग और एक समांतर चतुर्भुज होता है।

इसके दो बड़े त्रिभुजों का आकार एक मध्यम आकार के त्रिभुज से दोगुना है और एक मध्यम आकार के त्रिभुज का आकार छोटे आकार के त्रिभुज से दोगुना है। इसी प्रकार वर्गाकार टुकड़े का क्षेत्रफल छोटे त्रिभुज के क्षेत्रफल का दुगुना तथा समांतर चतुर्भुज का क्षेत्रफल वर्गाकार टुकड़े के बराबर रखा जाएगा।

यह भी पढे –

Related Posts

error: Content is protected !!