Menu Close

स्ट्रिप सील क्या होती है

इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) के सीलिंग कार्यों में सुधार करने के लिए, भारत के चुनाव आयोग ने एक बाहरी Strip Seal की छपाई की अनुमति दी है, जिससे कन्ट्रोल यूनिट के परिणाम कक्ष को बाहरी पेपर पट्टी से सील करने की सुविधा मिलती है, ताकि कन्ट्रोल यूनिट के इस क्षेत्र को खोला न जा सके। इस लेख में हम, स्ट्रिप सील क्या होती है जानेंगे।

स्ट्रिप सील क्या होती है

स्ट्रिप सील क्या होती है

स्ट्रिप सील कागज की एक सील होती है। पट्टी की लंबाई ऐसी होती है कि इसे कंट्रोल यूनिट की चौड़ाई के ऊपर आसानी से लपेटा जा सकता है। ताकि कंट्रोल यूनिट को मतदान से पहले बाहरी सील मिल जाए और जब कंट्रोल यूनिट पर अन्य जरूरी सील लगाई गई हो। हरे कागज की सील पर एक विशिष्ट पहचान संख्या होती है।

यह स्ट्रिप सील ऐसी संस्था से उपलब्ध करायी जाती है, जिसे आयोग ने अधिकृत किया है। प्रत्येक राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी इसे प्रत्येक राज्य के लिए अलग से खरीदने की व्यवस्था करते हैं। स्ट्रिप सील के दोनों सिरों पर चार स्टीकर लगे हुये होते हैं। पट्टी के भीतर और बाहरी भाग में गहरे गोंद लगे हैं।

जब मतदान शुरू हो गया है और मतगणना समाप्त होने तक, स्ट्रिप सील सुनिश्चित करता है कि, जब मतदान केंद्र पर मशीन में पहला वोट डाला जाता है और जब तक मतों की गिनती टेबल पर आती है, तब तक कोई भी व्यक्ति परिणाम कक्ष को बिना स्ट्रिप सील को नुकसान पहुंचाये न खोल सके।

निर्वाचन आयोग यह निर्देश देता है कि हर मतदान केन्द्र स्ट्रिप सील जहां EVM का इस्तेमाल होना है, कन्ट्रोल यूनिट को बाहर से स्ट्रिप सील से सुरक्षित एवं सील दी जाएगी ताकि स्ट्रिप सील को नुकसान पहुंचाए बिना यह सेक्शन खोला न जा सके। स्ट्रिप सील रिजल्ट सेक्शन से बाहरी कव्हर पर स्थित की जाएगी जो क्लोज बटन की रबर कवरिंग स्ट्रिप सील से ढंक न जाए। यह आकस्मिक बूथ कैप्चरिंग के मामले में क्लोज बटन दबाने के लिये प्लास्टिक कैप को हटाने में आसान बना देगा।

संदर्भ: s3waas.gov.in

यह भी पढे –

Related Posts

error: Content is protected !!