Menu Close

एसएससी सीएचएसएल क्या होता है

भारत सरकार के कई मंत्रालयों/विभागों/संगठनों में भर्ती के लिए हर साल ‘SSC CHSL‘ परीक्षा की जाती है। अगर आप नहीं जानते की, एसएससी सीएचएसएल क्या होता है तो हम इसे आसान शब्दों में बताने जा रहे है। आप अगर सरकारी नोकरी के लिए प्रयास कर रहे है तो यह जानना आपके लिए फायदेमंद साबित होगा।

एसएससी सीएचएसएल क्या होता है

एसएससी सीएचएसएल क्या होता है

एसएससी सीएचएसएल सरकार के विभिन्न विभागों और कार्यालयों में उच्च माध्यमिक योग्य छात्रों का चयन करने के लिए आयोजित एक संयुक्त प्रतियोगिता परीक्षा है। SSC CHSL का पूर्ण रूप कर्मचारी चयन आयोग संयुक्त उच्चतर माध्यमिक स्तर की परीक्षा है। एसएससी सीएचएसएल का लॉंग फॉर्म ‘Staff Selection Commission – Combined Higher Secondary Level Exam’ होता है।

इसमें लोअर डिवीजन क्लर्क, जूनियर सचिवालय सहायक, डाक सहायक, छंटनी सहायक और डाटा एंट्री ऑपरेटर पद शामिल हैं। एसएससी कंप्यूटर आधारित टेस्ट, डिस्क्रिप्टिव पेपर और स्किल टेस्ट या टाइपिंग टेस्ट के जरिए असिस्टेंट/क्लर्क पदों के लिए उम्मीदवारों का चयन और सुझाव दे सकता है।

एसएससी कई पदों पर भर्ती के लिए संयुक्त उच्च माध्यमिक स्तर (सीएचएसएल, 10+2) परीक्षा आयोजित करता है जैसे:

  • पोस्टिंग असिस्टेंट/सॉर्टिंग असिस्टेंट (PA/SA)
  • 2.डाटा एंट्री ऑपरेटर (DEO)
  • 3.लोअर डिवीजनल क्लर्क (LDC)
  • कोर्ट क्लर्क

पात्रता

SSC CHSL पात्रता-मानदंड मुख्य रूप से आयु मानदंड, राष्ट्रीयता और शैक्षणिक मानदंड जैसे 3 कारकों पर निर्भर हैं। वह इस प्रकार है:

  1. राष्ट्रीयता: उम्मीदवार एक भारतीय नागरिक होना चाहिए या नेपाल/भूटान या तिब्बती शरणार्थी से संबंधित होना चाहिए जो 1 जनवरी, 1962 से पहले भारत में हमेशा के लिए बसने के लिए आया था।
  2. शैक्षिक मानदंड: किसी मान्यता प्राप्त शैक्षिक बोर्ड या विश्वविद्यालय से कक्षा 12 या इसके समकक्ष उत्तीर्ण या उपस्थित होना चाहिए।
  3. आयु मानदंड: आयु 18-27 वर्ष के बीच होनी चाहिए। हालांकि, कुछ आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवार भारत सरकार के मानदंडों के अनुसार आरक्षण के लिए दावा कर सकते हैं।

यह भी पढे –

Related Posts

error: Content is protected !!