Menu Close

शिलाजीत के फायदे हिंदी

शिलाजीत एक गाढ़े भूरे रंग का, चिपचिपा पदार्थ है जो मुख्य रूप से हिमालय की चट्टानों से पाया जाता है। इसका रंग सफेद से लेकर गहरा भूरा कुछ भी हो सकता है। शिलाजीत आमतौर पर आयुर्वेदिक चिकित्सा में प्रयोग किया जाता है। आयुर्वेद ने शिलाजीत की बहुत प्रशंसा की है, जहाँ इसका उपयोग अधिकांश नुस्खों में एक बलवर्धक, स्फूर्तिदायक और जोशवर्धक के रूप में किया जाता है। यह बहुत प्रभावी और सुरक्षित है, जिसका आपके समग्र स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है। इस लेख में हम, शिलाजीत के फायदे हिंदी (Shilajit ke Fayde Hindi) में क्या है जानेंगे।

शिलाजीत के फायदे हिंदी

शिलाजीत के फायदे हिंदी

1. एनीमिया की समस्या में मददगार

एनीमिया की समस्या शरीर में खून की कमी है। आज के दौर में आयरन की कमी से होने वाला एनीमिया अधिक आम है। शिलाजीत का सेवन शरीर में रक्त निर्माण की प्रक्रिया में मदद करता है और ऊर्जा लाता है। क्योंकि इसमें ह्यूमिक एसिड और आयरन होता है।

2. शिलाजीत एनर्जी बूस्टर है

महिलाओं में एनर्जी बढ़ाने के लिए शिलाजीत से बेहतर शायद ही कुछ हो। अगर आप व्यस्त दिनचर्या में कभी भी थकान, नींद और सुस्ती महसूस करते हैं तो यह दवा एनर्जी लेवल को बढ़ाने का काम करती है। शिलाजीत के मजबूत एंटीऑक्सीडेंट गुण कोशिकाओं की रक्षा करते हैं और हानिकारक मुक्त कणों से होने वाले नुकसान की मरम्मत में भी मदद करते हैं। शिलाजीत के नियमित सेवन से महिलाएं पहले से ज्यादा सक्रिय और ऊर्जावान महसूस कर सकती हैं।

3. पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन में सुधार

पुरुषों के लिए टेस्टोस्टेरोन हार्मोन बहुत महत्वपूर्ण है। पुरुषों के यौन स्वास्थ्य को बेहतर बनाने और नपुंसकता जैसी समस्याओं को दूर करने में इस हार्मोन का काफी महत्व है। इसकी कमी से पुरुषों को बाल झड़ना, मांसपेशियों का कमजोर होना, शरीर की चर्बी का बढ़ना और थकान जैसी समस्या हो सकती है।

4. दिमाग तेज रखता है

शिलाजीत का सेवन हमारे दिमाग के लिए भी फायदेमंद होता है। यह हमारी याददाश्त को भी मजबूत कर सकता है। इसमें मौजूद फुल्विक एसिड मस्तिष्क में ताऊ प्रोटीन के असामान्य और असंतुलित उत्पादन को रोक सकता है। जिससे अल्जाइमर जैसी दिमाग की समस्या से भी छुटकारा पाया जा सकता है। हालांकि, इस पर अभी और शोध की जरूरत है।

5. गठिया के जोखिम को कम करें

गठिया से पीड़ित महिलाओं में बढ़े हुए ऑक्सीडेटिव तनाव के कारण प्रो-इंफ्लेमेटरी यौगिक बनते हैं। शिलाजीत में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट फ्री रेडिकल्स को नष्ट कर स्थिति को बिगड़ने से रोकने का काम करता है। एक अध्ययन के अनुसार, शिलाजीत से उपचार करने से लचीलेपन में सुधार के साथ-साथ जोड़ों का दर्द और अकड़न कुछ हद तक कम हो जाती है।

6. यूरिनरी प्रॉब्लम में मददगार

शिलाजीत के सेवन से यूरिनरी प्रॉब्लम से भी राहत मिल सकती है। यह गुर्दे और मूत्राशय को स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है। इसका सेवन करने से पेशाब में जलन और पथरी जैसी समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। इससे किडनी की कार्यक्षमता बढ़ती है।

7. जोड़ों के दर्द से राहत

अगर आपके जोड़ों में दर्द है तो शिलाजीत का सेवन फायदेमंद साबित हो सकता है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। जो शरीर में ऊतकों की सूजन को कम कर जोड़ों के असहनीय दर्द से राहत दिलाने में मदद करता है। इसके साथ ही इसके इस्तेमाल से उम्र बढ़ने के लक्षण और कोशिका क्षति की प्रक्रिया को भी कम किया जा सकता है।

8. अनियमित पीरियड्स में शिलाजीत

आजकल अनियमित या अनियमित पीरियड्स महिलाओं में एक गंभीर समस्या बन गई है। ज्यादातर महिलाओं को इस समस्या का सामना करना पड़ रहा है। अनियमित पीरियड्स का असर महिलाओं की प्रजनन क्षमता पर पड़ता है। ऐसे में शिलाजीत का सेवन बहुत फायदेमंद होता है।

यह भी पढे –


Related Posts

error: Content is protected !!