Menu Close

सौंफ खाने के फायदे और नुकसान | Saunf Benefits and Side Effects in Hindi

सौंफ (Fennel) का इस्तेमाल हम सभी माउथवॉश के तौर पर करते हैं। यह सौंफ औषधीय गुणों से भरपूर है। भारतीय रसोई में जीरा जैसी सौंफ देखना आम बात है। इसका उपयोग खाने में बड़े पैमाने पर किया जाता है। इसके अलावा खाना खाने के बाद इसका सेवन माउथ फ्रेशनर के रूप में भी लोकप्रिय है। सौंफ में कैल्शियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस, पोटेशियम, विटामिन ए और विटामिन सी जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। पेट संबंधी समस्याओं के लिए सौंफ रामबाण की तरह काम करती है। इस लेख में सौंफ खाने के फायदे और नुकसान (Fennel Benefits and Side Effects) क्या है जानेंगे।

सौंफ खाने के फायदे और नुकसान

सौंफ खाने के फायदे

1. सौंफ आंखों की रोशनी बढ़ाती है (Fennel enhances eyesight)

विटामिन-ए और विटामिन-सी आंखों की रोशनी बढ़ाने में अहम भूमिका निभाते हैं। सौंफ में विटामिन ए पाया जाता है। अगर किसी की आंखों में जलन हो रही हो या खुजली हो रही हो तो सौंफ की भाप आंखों पर लगाने से आराम मिल सकता है। इसके लिए सौंफ को एक सूती कपड़े में लपेटकर हल्का गर्म करके आंखों को सेंक लें। ध्यान रहे कि यह ज्यादा गर्म ना हो।

2. High Blood Pressure को कम करें

जिन लोगों को High Blood Pressure की समस्या है उनके लिए भी सौंफ एक फायदेमंद घरेलू उपाय बन सकती है। सौंफ में पोटेशियम, कैल्शियम और मैग्नीशियम समेत कई जरूरी तत्व पाए जाते हैं, जो बढ़े हुए ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद करते हैं।

3. वजन कम करने में मददगार (Helpful in reducing weight)

फाइबर से भरपूर सौंफ बढ़ते वजन को नियंत्रित करने में भी फायदेमंद हो सकती है। यह न सिर्फ वजन कम करने में मदद करता है, बल्कि शरीर में अतिरिक्त चर्बी को बनने से भी रोकता है। कोरिया में हुए एक शोध के अनुसार एक कप सौंफ की चाय पीने से भी वजन बढ़ने से रोका जा सकता है।

4. पाचन के लिए फायदेमंद (Beneficial for Digestion)

सौंफ का इस्तेमाल आमतौर पर पाचन संबंधी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए किया जाता है। इसके एंटीस्पास्मोडिक और कार्मिनेटिव गुण इरिटेबल बोवेल सिंड्रोम जैसी पेट की गंभीर समस्याओं से राहत दिलाने में बहुत कारगर हैं। इसके अलावा सौंफ पेट दर्द, सूजन और गैस जैसी समस्याओं को दूर करने के साथ ही अल्सर, डायरिया और कब्ज आदि से राहत दिलाने में कारगर साबित हो सकती है।

5. सांसों की दुर्गंध से छुटकारा (Get rid of bad breath)

सौंफ का इस्तेमाल आमतौर पर सांसों में ताजगी बनाए रखने के लिए किया जाता है। सौंफ के कुछ दाने चबाने से सांसों की दुर्गंध दूर हो जाती है। सौंफ चबाने से मुंह में लार बढ़ती है, जो बैक्टीरिया को दूर करने में मददगार साबित हो सकती है। इसके अलावा सौंफ के गुण यह भी हैं कि यह मुंह के संक्रमण से भी बचाव कर सकती है।

6. कब्ज से राहत (Constipation relief)

अनियमित दिनचर्या और खान-पान की वजह से कब्ज की समस्या आम हो जाती है। एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर सौंफ कब्ज से राहत दिलाने में मदद कर सकती है। सौंफ का काढ़ा बनाकर पीने से कब्ज से काफी हद तक छुटकारा पाया जा सकता है।

7. सूजन कम करें (Reduce swelling)

सौंफ में कोलीन नामक एक अत्यंत महत्वपूर्ण पोषक तत्व पाया जाता है, जो लंबे समय से हो रही सूजन और लालिमा को कम करने में मदद करता है। जिन लोगों को त्वचा या जोड़ों में सूजन की समस्या रहती है उनके लिए सौंफ का सेवन बहुत फायदेमंद हो सकता है।

सौंफ खाने के नुकसान

1. स्तनपान कराने वाली महिलाए सौंफ के सेवन से बचें (Breastfeeding women should avoid Fennel)

स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी सौंफ के सेवा न से बचना चाहिए। इससे बच्चे के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ सकता है। सौंफ का अधिक सेवन बच्चे और मां दोनों के लिए हानिकारक होगा।

2. दवाओं के साथ सेवन न करें (Do not consume with medicines)

अगर आप डॉक्टर की सलाह पर किसी भी तरह की दवाओं का रूटीन फॉलो कर रहे हैं तो इस दौरान सौंफ का सेवन बिल्कुल भी न करें। माना जा रहा है कि यह कदम सेहत के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। अगर आप अभी भी सौंफ को डाइट का हिस्सा बनाना चाहते हैं तो इसके लिए एक्सपर्ट की सलाह लें।

3. एलर्जी का खतरा (Risk of allergies)

अगर आपको किसी भी तरह की एलर्जी की समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो भी सौंफ के सेवन से बचें। जानकारों के मुताबिक इससे एलर्जी की समस्या और भी बढ़ सकती है। सौंफ का अधिक मात्रा में सेवन करने से एलर्जी का खतरा हो सकता है।

अस्वीकरण: यहां दी गई जानकारी सामान्य जानकारी पर आधारित है। कृपया इसे अपनाने से पहले चिकित्सकीय सलाह लें।

यह भी पढ़ें-

Related Posts

error: Content is protected !!