Menu Close

सहायिकी क्या है

विभिन्न अर्थशास्त्रियों के अनुसार, यदि सब्सिडी किसी देश की समग्र अर्थव्यवस्था में सुधार करने में विफल रहती है, तो सब्सिडी एक विफलता है। नीति निर्माताओं या सरकार द्वारा शुरू की गई योजना के सदस्यों के लिए, किसी भी निर्धारित लक्ष्य को प्राप्त करने में मदद करने पर सब्सिडी को सफल माना जा सकता है। अगर आप सहायिकी क्या है नहीं जानते तो हम इस आर्टिकल में इसे आसान भाषा में बताने जा रहे है।

सहायिकी (सब्सिडी) क्या है

सहायिकी क्या है

सहायिकी भारत सरकार द्वारा देश भर में सस्ती कीमतों पर लोगों को आवश्यक उत्पाद उपलब्ध कराने के लिए दी जाने वाली छूट है। सब्सिडी वह राशि है जो सरकार लोगों को सब्सिडी वाले उत्पाद बेचने वाली इकाई/उद्योग को देती है। सहायिकी सरकार के गैर-नियोजित खर्च का एक हिस्सा है, जिसमें सब्सिडी की लागत उत्पादन की वास्तविक लागत से काफी कम होती है।

सब्सिडी (Subsidy) एक अंग्रेजी का शब्द है। इसका हिंदी अनुवाद “राजसहायता” होता है। सीधे शब्दों में कहें तो राजा से जो सहायता मिलती है उसे सब्सिडी कहते हैं। यह मदद आर्थिक और सामाजिक दोनों है। वर्तमान युग राजा का नहीं लोकतंत्र का समय है। लोकतंत्र में सरकार से मिलने वाली सहायता सब्सिडी कहलाती है।

अधिकांश कंपनियों को सरकार द्वारा उनके उत्पादों को कम कीमत पर जरूरतमंद लोगों या गरीबी रेखा से नीचे के परिवारों को आपूर्ति करने के लिए सब्सिडी दी जाती है। दुनिया में सबसे बड़ी सब्सिडी महात्मा गांधी रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) है। इस एक्ट के तहत भारत सरकार करीब 45,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। रोजगार अनुदान प्रदान करता है।

सब्सिडी से लाभ

आर्थिक उत्पादकता प्राप्त करने के लिए सब्सिडी का उपयोग बाजार की विफलताओं को संतुलित करने के लिए किया जा सकता है। सब्सिडी सरकार द्वारा कमजोर तबका जैसे मजदूरों, किसानों को नकद भुगतान या कर कटौती के रूप में प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष भुगतान है। दैनिक घरेलू या भोजन, शिक्षा, कृषि और ईंधन से संबंधित आवश्यक वस्तुएं सस्ती दरों पर आती हैं।

बोझ को कम करके और भविष्य के उपक्रमों के लिए धन उपलब्ध कराकर संघर्षरत बाजार में मदद करता है। स्वास्थ्य, दोपहर के भोजन कार्यक्रम और महात्मा गांधी रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) पर सब्सिडी प्रदान करके देश की महिलाओं और गरीब लोगों को सशक्त बनाने में मदद की।

यह भी पढ़े –

Related Posts

error: Content is protected !!