मेन्यू बंद करे

रूस में कौन सा धर्म है

Russia पूर्वी यूरोप और उत्तरी एशिया में फैले दुनिया का सबसे बड़ा देश है। रूस की जनसंख्या 14.6 करोड़ है; और दुनिया का नौवां सबसे अधिक आबादी वाला देश है। राजधानी मास्को, सबसे बड़ा शहर है, जबकि सेंट पीटर्सबर्ग दूसरा सबसे बड़ा शहर और देश का सांस्कृतिक केंद्र है। इस लेख में हम, रूस में कौन सा धर्म है या रूस में किस धर्म के लोग रहते हैं जानेंगे।

रूस में कौन सा धर्म है

रूस में कौन सा धर्म है

2017 का Religious Belief and National Belonging in Central and Eastern Europe का सर्वे है, जिसमें रूस की धार्मिक आबादी को विस्तार से बताया गया है। रूस में सबसे बड़ा धर्म, रूसी पारंपरिक ईसाई धर्म है, जिनकी आबादी 71% है। अन्य सर्वेक्षण अलग-अलग परिणाम देते हैं: वर्ष 2020 में लेवाडा केंद्र ने अनुमान लगाया कि 63% रूसी ईसाई लोग थे; 2020 में पब्लिक ओपिनियन फाउंडेशन ने अनुमान लगाया कि 63% आबादी ईसाई थी।

2011 में प्यू रिसर्च सेंटर ने अनुमान लगाया कि 71% रूसी ईसाई लोग थे; 2011 में इप्सोस मोरी ने अनुमान लगाया कि 69% रूसी ईसाई थे; और 2021 में रशियन पब्लिक ओपिनियन रिसर्च सेंटर ने अनुमान लगाया कि 67% रूसी ईसाई थे। सभी सर्वे से एक ही निष्कर्ष निकलता है की, सबसे बड़ी आबादी ‘ईसाई धर्म’ की है।

दूसरे नंबर पर ऐसा समुदाय आता है, जो किसी भी धर्म को नहीं मानता या किसी धर्म से ताल्लुक नहीं रखता है, इनकी आबादी Religious Belief and…Eastern Europe सर्वे अनुसार 15% है। तीसरे नंबर पर इस्लाम धर्म आता है, जिनकी आबादी करीब 10% है।

इस्लाम रूस में ईसाई धर्म के बाद सबसे बड़ा धर्म है। यह कुछ कोकेशियान जातीय समूहों और कुछ तुर्क लोगों के बीच ऐतिहासिक रूप से प्रमुख धर्म है। 2012 में, रूस में मुसलमान धर्मिय अनुयायी की आबादी 94 लाख थी, जो कुल आबादी के 6.5% है। रूस के सबसे बड़े मुफ्ती, शेख रॉविल गेनेतिन के अनुसार, रूस में मुस्लिम समुदाय का विकास तेजी से हो रहा है, जो 2018 में 2.5 करोड़ तक पहुंच गया था।

2012 के एक सर्वे अनुसार, रूस में, बौद्ध धर्म अनुयायी की संख्या करीब 700,000 थी, जो कुल आबादी के 0.5% है। इसके बाद हिन्दू धर्म आता है, जिसकी आबादी करीब 140,000 है, जो कुल आबादी के 0.1% है। 2007 में वोल्गा क्षेत्र में विष्णु का प्रतिनिधित्व करने वाली एक प्राचीन मूर्ति की खुदाई ने रूस में हिंदू धर्म के लिए रुचि को बढ़ावा दिया था। यहा यहूदी धर्म भी अच्छी संख्या में मौजूद है, जिनकी संख्या 140,000 है। लेकिन इस धर्म के लोग ज्यादातर नास्तिक और यहूदी धर्म में आस्था न रखने वालों में से हैं।

यह भी पढे –

Related Posts