मेन्यू बंद करे

पुदीना खाने के फायदे और नुकसान

Health Benefits and Side Effects of Mint: पुदीना (Pudina) अपने अनोखे स्वाद के लिए जाना जाता है। पुदीने की चटनी खाने का स्वाद तो बढ़ाती ही है साथ ही सेहतमंद भी होती है। पुदीना का उपयोग सदियों से आयुर्वेद में औषधि के रूप में किया जाता रहा है। सामान्य तौर पर पुदीने का उपयोग टूथपेस्ट, च्युइंगम, माउथ फ्रेशनर, कैंडी, इनहेलर आदि में किया जाता है। पुदीने की पत्तियों का उपयोग मुख्य रूप से चटनी बनाने में किया जाता है। इसके अलावा पुदीने की पत्तियां औषधीय गुणों से भरपूर होती हैं। इस लेख में हम, पुदीना खाने के फायदे और नुकसान क्या है जानेंगे।

पुदीना के फायदे और नुकसान

पुदीना खाने के फायदे

1. सर्दी जुकाम में फायदेमंद

नाक बंद हो तो पुदीने की पत्तियों को सूंघने से लाभ होता है। अगर गले में खराश है तो पुदीने का काढ़ा पीने से आराम मिलता है। काढ़ा बनाने के लिए एक कप पानी में 10-12 पुदीने की पत्तियां डालकर आधा होने तक उबालें। अब इस पानी को छान लें और इसमें थोड़ा सा शहद मिलाकर पी लें।

2. पाचन तंत्र को बनाता है मजबूत

पुदीने में एंटीबैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, इसलिए यह पाचन में सुधार करता है। पाचन की समस्या को दूर करने के लिए पुदीना काफी फायदेमंद साबित होता है। एसिडिटी की समस्या हो तो एक कप गुनगुने पानी में आधा चम्मच पुदीने का रस मिलाकर पिएं।

3. त्वचा को निखरता है

पुदीना त्वचा की कोशिकाओं को नई ऊर्जा देता है इसलिए पुदीना का इस्तेमाल कई ब्यूटी प्रोडक्ट्स में किया जाता है। यह त्वचा की नमी को भी बरकरार रखता है। अपने एंटीसेप्टिक और जीवाणुरोधी गुणों के कारण यह त्वचा से अशुद्धियों को दूर करने में भी सहायक है।

4. मिचली आने पर पुदीना खाएं

जी मिचलाना या उल्टी होने पर पुदीने का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। इसका उपयोग माउथ फ्रेशनर के रूप में भी किया जाता है। अगर आप पुदीने की पत्तियों को चबाएंगे तो आपको आराम मिलेगा।

5. पुदीने की पत्तियां सिरदर्द का अचूक इलाज

पुदीने की पत्तियों में मेन्थॉल होता है, जो दर्द निवारक का काम करता है। पुदीने की पत्तियों से निकाले गए तेल को सिरदर्द के इलाज के रूप में लगाया जा सकता है। जो सूजन को कम करने और ताजगी देने में मदद करता है।

6. ओरल केयर

पुदीने में रोगाणुनाशक गुण होते हैं, इसकी पत्तियों को चबाने से सांसों की दुर्गंध दूर होती है। इसके साथ ही यह मुंह के कीटाणुओं को भी मारता है और संपूर्ण ओरल हेल्थ का ख्याल रखता है।

7. वजन कम करने में मददगार

पुदीने में कैलोरी बहुत कम होती है, अगर आप इसका सेवन करते हैं तो आप अतिरिक्त कैलोरी लेने से बच सकते हैं। तनाव के कारण वजन कई गुना बढ़ जाता है, पुदीने की पत्तियों में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करने के गुण होते हैं।

8. पीरियड्स के दर्द से राहत

पेपरमिंट का इस्तेमाल पीरियड्स के दर्द से राहत पाने के लिए किया जा सकता है। दरअसल, पीरियड्स के दौरान महिलाओं को तेज ऐंठन और दर्द का सामना करना पड़ता है। ऐसे में पुदीने के इस्तेमाल से महिलाओं के दर्द को कम किया जा सकता है।

पुदीना खाने के नुकसान

1. पुदीने की चाय से नुकसान

बहुत अधिक पुदीने की चाय पीने से व्यक्ति की सेहत को नुकसान हो सकता है। पुदीने की चाय में मेन्थॉल पाया जाता है, जिससे किसी भी व्यक्ति को एलर्जी हो सकती है। इसके अलावा इसका अधिक मात्रा में सेवन करने पर व्यक्ति को सीने में जलन भी महसूस हो सकती है।

3. शुगर और लो बीपी के मरीजों को नहीं करना चाहिए सेवन

जिन लोगों को शुगर कम होने की समस्या है उन्हें पुदीने के सेवन से दूर रहना चाहिए। इसके जूस का सेवन करने से खून में मौजूद शुगर के स्तर को कम किया जा सकता है। लो ब्लड प्रेशर के मरीजों को भी इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए, क्योंकि इसका मेन्थॉल नामक घटक ब्लड प्रेशर के स्तर को कम करके समस्या पैदा कर सकता है।

4. कब्ज या पेशाब से जुड़ी समस्या

अगर किसी व्यक्ति को कब्ज या पेशाब से जुड़ी कोई समस्या है तो उसे पुदीने का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि पुदीना मल और पेशाब का खंभा होता है। इसके साथ ही पुदीने के सेवन से किडनी से संबंधित समस्याएं, आंत्र विकार, संबंध बनाने की इच्छा में कमी आदि भी हो सकती हैं।

यह भी पढ़ें-

Related Posts