मेन्यू बंद करे

पेपिलोमा बीमारी क्या है | कारण, उपचार और इलाज

Papilloma in Hindi: गर्दन, हाथ, पैर या जननांग अंगों पर मस्से होना आम बात है। कई बार यह गले में मुंह के अंदर भी हो जाता है। लेकिन हम इसे बहुत हल्के में लेते हैं। इसका कारण यह है कि इनसे कोई दर्द नहीं होता है, लेकिन दर्द के न होने का मतलब यह नहीं है कि इसे हल्के में लिया जाए। क्योंकि कुछ मस्से खतरनाक होते हैं और ये कैंसर का कारण भी बन सकते हैं। इसका पूरा नाम Human Papilloma Virus (HPV) है, इसलिए इसका समय पर इलाज और टीका लगवाना चाहिए। इस लेख में हम, पेपिलोमा बीमारी क्या है, पेपिलोमा का कारण और पैपिलोमा का उपचार और इलाज क्या है जानेंगे।

पेपिलोमा बीमारी क्या है

पेपिलोमा बीमारी क्या है

पेपिलोमा बीमारी एक वायरल संक्रमण है और ये एक तरह से शरीर पर मस्से के रूप में दिखाई देते हैं। ये मस्से परजीवी होते हैं। परजीवी का मतलब है कि हमारे शरीर में कुछ पल रहा है। हमारा शरीर इन परजीवियों के लिए एक मेजबान के रूप में कार्य कर रहा है और वे हमारे शरीर की कोशिकाओं को अंदर खाकर बढ़ते रहते हैं। इतना ही नहीं यह बढ़ने के साथ-साथ शरीर में भी फैलता है। कुछ मामलों में ये अपने आप सूख जाते हैं और कई मामलों में ये सालों तक बने रहते हैं।

Human Papilloma Virus (HPV) सबसे आम यौन संचारित संक्रमण है जो अधिकांश यौन सक्रिय पुरुष और महिलाएं अपने जीवनकाल में किसी न किसी बिंदु पर संपर्क में आते हैं। जब किसी व्यक्ति में HPV संक्रमण शुरू होता है, तो यह उस व्यक्ति के हाथ, पैर और जननांगों पर मस्सों का निर्माण करता है। कुछ प्रकार के तनाव होते हैं जो किसी व्यक्ति को कुछ प्रकार के कैंसर के विकास के उच्च जोखिम में डालते हैं।

यह भी पढ़ें – ट्यूमर क्या होता है | ट्यूमर के प्रकार

पेपिलोमा का कारण

पेपिलोमा (Papilloma) वायरस के संक्रमण के कारण यह एक शरीर से दूसरे शरीर में फैलता है। इसका वायरस त्वचा के फटने की जगह से शरीर में प्रवेश करता है। इसके बाद खून में मिल जाने के बाद यह और फैल जाता है। दूसरे, इसका कारण शारीरिक संबंध भी हो सकते हैं। क्योंकि यह मुंह से गर्भाशय के अंदर तक हो सकता है।

मुख्य रूप से HPV के 10 प्रकार बताए गए हैं लेकिन इसके वर्गीकरण के अनुसार यह 130 प्रकार के होते हैं। HPV प्रकार 1, 2, और 4 आम मौसा हैं। इनमें से कुछ मस्से गर्भाशय में पाए जाते हैं जो सर्वाइकल कैंसर का कारण हो सकते हैं।

यह भी पढ़ें- विटामिन डी की कमी से होने वाले रोग, लक्षण, कारण

पैपिलोमा का उपचार और इलाज

शरीर में कहीं भी मस्से दिखें तो डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। साधारण मस्सों के लिए कई प्रकार की क्रीम होती हैं लेकिन घातक मस्सों के लिए टीकाकरण की आवश्यकता होती है, जिसे डॉक्टर की सलाह से ही लेना चाहिए।

पेपिलोमा एक वायरल संक्रमण है जो अत्यधिक संक्रामक है। यह त्वचा से त्वचा के संपर्क से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है। यदि Human Papilloma Virus (HPV) किसी व्यक्ति के गर्भाशय ग्रीवा या गुदा या लिंग में जननांग मौसा (Genital warts) है, तो यह कैंसर का कारण बनता है। इसके लिए उचित उपचार की आवश्यकता होती है। यदि आपके HPV या जननांग मौसा के लक्षण बहुत प्रमुख नहीं हैं और आपको ज्यादा परेशान नहीं करते हैं, तो इलाज की कोई आवश्यकता नहीं है।

उपचार केवल मस्सों वाले रोगियों को दिया जा सकता है जो घावों की अधिकतम संख्या को नष्ट करते हैं। एक बार आपके मस्सों का इलाज हो जाने के बाद, आपको उनकी वापसी से बचने के लिए कुछ अच्छी आदतें विकसित करनी होंगी। सबसे महत्वपूर्ण कदम उचित स्वच्छता बनाए रखना, क्षेत्र को साफ रखना और इसे खरोंचने से बचाना है।

जननांग मौसा (Genital warts) के इलाज के लिए सामान्य परामर्श शुल्क 200 रुपये से 2000 रुपये के बीच है। उपचार में कुछ टेस्ट शामिल हैं जैसे पीएपी परीक्षण और HPV परीक्षण जिसमें पीएपी परीक्षण की लागत लगभग 200 रुपये से 1,500 रुपये और HPV की लागत है। कुछ टेस्ट की कीमत लगभग 2,000 रुपये है।

यह भी पढ़ें- हर्निया रोग क्या है | कारण और ऑपरेशन के बाद सावधानी

Related Posts