Menu Close

ऑपरेशन दुर्गा क्या है

ऑपरेशन दुर्गा से पहले उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार ने लगातार चर्चाओं में रहे महिलाओं से छेड़छाड़ के मामलों को रोकने के लिए ‘एंटी रोमियो स्क्वॉड’ का गठन किया था। इसके बाद ‘Operation Durga’ का निर्माण हुआ। इस लेख में हम ऑपरेशन दुर्गा क्या है जानेंगे।

ऑपरेशन दुर्गा क्या है

ऑपरेशन दुर्गा क्या है

ऑपरेशन दुर्गा हरियाणा में चलाया गया सरकारी उपक्रम है, जिनमें राज्य की पुलिस महिलाओं और लड़कियों को परेशान करने वाले मजनुवों या लड़कों को समझाती और गंभीर प्रकरण में दंडित भी करती है।

हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार ने महिलाओं से छेड़छाड़ रोकने के लिए एक दस्ता बनाने का फैसला किया था। खट्टर सरकार ने इस दस्ते का नाम ‘ऑपरेशन दुर्गा’ रखा है। हरियाणा राज्य सरकार ने 13 अप्रैल 2017 को ऑपरेशन दुर्गा का शुभारंभ किया। ‘ऑपरेशन दुर्गा’ दस्ते ने राज्य में उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई करता है।

दस्ते के गठन के साथ ऑपरेशन दुर्गा हरकत में आया। इस दस्ते ने पहले ही दिन 72 असामाजिक तत्वों को महिलाओं से छेड़खानी करते पकड़ा था। ऑपरेशन दुर्गा की सीधी निगरानी के लिए इसकी कमान मुख्यमंत्री उड़न दस्ते को सौंपी गई है।

इस ऑपरेशन के तहत राज्य भर में 24 टीमें काम कर रही हैं, जिनमें 9 महिला सब इंस्पेक्टर, 14 महिला एएसआई, 6 महिला हेड कांस्टेबल और 13 महिला कांस्टेबल शामिल हैं। हरियाणा राज्य के मजनू को पकड़ने के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के उड़न दस्ते की 24 टीमों को तैयार किया गया था। मुख्यमंत्री के इस उड़न दस्ते में 24 टीमों के अलावा स्थानीय पुलिसकर्मी भी शामिल हैं, जो महिलाओं के खिलाफ अपराध को रोकने में मदद करते हैं।

इस दस्ते की स्कूल-कॉलेज पर खास नजर है। ऑपरेशन दुर्गा की टीमें मुख्य रूप से स्कूलों, कॉलेजों और ट्यूशन केंद्रों सहित सार्वजनिक स्थानों पर आधारित हैं। इसके साथ ही राज्य सरकार ने महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों से निपटने के लिए हर जिले में महिला थाने खोले हैं।

यह भी पढ़ें-

Related Posts

error: Content is protected !!