Menu Close

ओमीक्रोन (Omicron) वायरस क्या है

दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस के एक नए प्रकार, ओमाइक्रोन/ ओमी क्रोन/ ओमीक्रोन (Omicron) वायरस (बी.1.1.529) का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। वैज्ञानिकों को आशंका है कि यह वेरिएंट एक बार फिर से कोविड महामारी को हवा दे सकता है। दक्षिण अफ्रीका में ओमिक्रॉन वेरिएंट के 100 से अधिक मामले सामने आए हैं। इस वैरिएंट के सामने आने के बाद दुनिया के कई देशों ने दक्षिण अफ्रीका से यात्रा पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया है। चिंता की बात यह है कि भारत में इस टाइप के वायरस के शिकार लोगों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ रही है। अगर आप ओमाइक्रोन (Omicron) वायरस क्या है यह नहीं जानते तो हम इस आर्टिकल में इसके बारे में विस्तार से बताने जा रहे है।

ओमी क्रोन (Omicron) क्या है

ओमी क्रोन (Omicron) वायरस क्या है

ओमी क्रोन /ओमाइक्रोन (Omicron) कोरोना वायरस का एक नया रूप है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इसे तकनीकी शब्दावली में वेरियंट ऑफ कंसर्न (VoC) यानी ‘चिंता का वेरिएंट’ बताया है। डब्ल्यूएचओ ने चेतावनी दी है कि इस म्यूटेशन से संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है। यह बहुत तेज़ और बड़ी संख्या में परिवर्तनशील वेरिएंट हैं। शोधकर्ताओं के मुताबिक, यह वेरिएंट डेल्टा से 7 गुना तेजी से फैल रहा है। एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में इसके संक्रमण का फैलाव भी डेल्टा वेरिएंट से अधिक है।

इस वेरियंट को पहचाने जाने से पहले इसे 32 बार उत्परिवर्तित किया गया है। डब्ल्यूएचओ के अनुसार, प्रारंभिक साक्ष्य बताते हैं कि जो लोग पहले ही कोरोना वायरस के किसी भी प्रकार से संक्रमित हो चुके हैं, उन्हें ओमी क्रोन से संक्रमण का अधिक खतरा हो सकता है। जो लोग पूर्व में कोरोना से ठीक हो चुके हैं, उन्हें आसानी से ओमाइक्रोन से संक्रमित होने का खतरा होता है, इसलिए यदि आप पहले भी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं तो आपको बहुत सावधान रहने की जरूरत है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) का कहना है कि यह अभी तक स्पष्ट नहीं है कि ओमी क्रोन पहले के वेरिएंट (डेल्टा, अल्फा आदि) की तुलना में अधिक संक्रामक है या नहीं। यानी अभी साफ तौर पर यह नहीं कहा जा सकता है कि यह लोगों को तेजी से संक्रमित करेगा और इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है। अच्छी बात यह है कि इस स्ट्रेन की पहचान आरटीपीसीआर टेस्ट के जरिए करना आसान है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) अपने तकनीकी साझेदारों के साथ यह समझने की कोशिश कर रहा है कि इस वैरिएंट ओमाइक्रोन का टीके पर क्या प्रभाव पड़ता है। यानी अभी साफ तौर पर यह नहीं कहा जा सकता कि आपने जो टीका लगाया है वह इस स्ट्रेन से आपकी रक्षा करेगा या नहीं।

यह भी पढ़े –

Related Posts

error: Content is protected !!