Menu Close

नीम के पत्ती खाने के फायदे और नुकसान | Benefits and Harms of eating Neem in Hindi

नीम (Neem) एक ऐसा पेड़ है जिसका तना, पत्तियाँ और बीज औषधि का काम करते हैं। गांवों में अब तक लोग इसकी टहनियों को झाड़ते रहे हैं। इसकी पत्तियों का उपयोग औषधि बनाने में किया जाता है। इसके बीजों का उपयोग औषधि के रूप में भी किया जाता है। दुनिया भर में लाखों ऐसे पेड़-पौधे हैं जो न केवल भोजन प्रदान करते हैं बल्कि औषधि के रूप में भी उपयोग किए जाते हैं। ऐसे ही एक पेड़-पौधों में से एक है नीम का पेड़। इस लेख में हम नीम के पत्ती खाने के फायदे और नुकसान (Benefits and harms of eating Neem Leaves) क्या है जानेंगे।

नीम के पत्ती खाने के फायदे और नुकसान | Benefits and harms of eating Neem in Hindi

नीम के पत्ती खाने के फायदे

1. घाव भरने में कारगर (Effective in Wound Healing)

फोड़े फुंसी या किसी भी प्रकार के घाव में नीम के पत्तों को पीसकर उसका लेप लगाने से बहुत लाभ होता है। यह दर्द से राहत पाने के साथ-साथ घाव भरने में कारगर साबित होता है। साथ ही नीम के पत्तों को पीसकर उसमें जैतून का तेल मिलाकर लेप लगाने से नासूर ठीक हो जाता है।

2. चर्म रोग दूर करता है (Cures Skin Diseases)

दाद, खुजली या अन्य प्रकार के चर्म रोगों की समस्या को दूर करने में नीम के पत्ते फायदेमंद होते हैं। इसके लिए आप नीम के तेल से शरीर की मालिश कर सकते हैं। साथ ही अगर आप कपूर को तेल में मिलाकर लगाते हैं तो यह काफी असरदार होता है।

3. डैंड्रफ की समस्या दूर करता है (Removes Dandruff Problem)

नीम के औषधीय गुणों पर 2011 के एक अध्ययन से पता चला है कि नीम के एंटीफंगल और जीवाणुरोधी गुण इसे शैंपू और स्कैल्प क्लीन्ज़र में बहुत लोकप्रिय बनाते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह बालों को हाइड्रेटेड रहने में मदद कर सकता है और त्वचा को मजबूत करते हुए डैंड्रफ को खत्म कर सकता है। एंटीऑक्सिडेंट होने के कारण, यह आपके बालों के रोम के स्वास्थ्य में भी सुधार करता है।

4. पथरी की समस्या में दिलाए राहत (Give relief in the problem of Stones)

पथरी की समस्या से निजात दिलाने में नीम की पत्तियां काफी मददगार साबित होती हैं। अगर आप किडनी स्टोन की समस्या से परेशान हैं तो नीम के पत्तों का सेवन कर सकते हैं। इसके लिए आप पहले नीम के पत्ते को सुखा लें, फिर उसे भूनकर उसकी राख बना लें। अब इसे रोजाना दो से तीन ग्राम गुनगुने पानी के साथ पिएं। इससे आपकी पथरी घुलने लगती है और उसे बाहर निकालने में मदद मिलती है।

5. सुंदरता बढ़ाता है (Enhances Beauty)

नीम बाजार में मौजूद फेस प्रोडक्ट्स की तुलना में चेहरे की खूबसूरती को कई गुना बढ़ाने में कारगर साबित होता है। नीम के पत्तों को पीसकर चेहरे पर लगाने से चेहरे के दाग-धब्बे, कील-मुंहासे दूर हो जाते हैं। साथ ही नीम की छाल को पीसकर चेहरे पर लगाने से त्वचा की खूबसूरती कई गुना बढ़ जाती है।

6. जीवाणुरोधी क्षमता (Antibacterial Ability)

एक वैकल्पिक चिकित्सा पत्रिका में प्रकाशित एक शोध में बताया गया है कि नीम से बने हर दूसरे पदार्थ में मजबूत जीवाणुरोधी और रोगाणुरोधी प्रभाव होते हैं। यह हमारे शरीर के आंतरिक और बाहरी दोनों हिस्सों की मरम्मत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, यही वजह है कि नीम को प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए एक सामान्य टॉनिक माना जाता है। यह आमतौर पर त्वचा की स्थिति के उपचार से जुड़ा होता है, लेकिन इसके प्रभाव इससे कहीं अधिक व्यापक होते हैं।

नीम के पत्ती खाने के नुकसान

  1. नीम के कई फायदे हैं, लेकिन इसका अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए। इसके कुछ नुकसान इस प्रकार हैं:
  2. नियमित शराब पीने वालों को भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए।
  3. नीम के अधिक सेवन से मुंह का स्वाद खत्म हो जाता है।
  4. भले ही महिलाएं गर्भवती हों या स्तनपान करा रही हों, उन्हें नीम के सेवन से बचना चाहिए।
  5. नीम शुगर लेवल को कम करता है इसलिए अगर आप उपवास कर रहे हैं तो नीम का सेवन नहीं करना चाहिए।
  6. बाल धोते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि नीम आपकी आंखों में न जाए, क्योंकि इससे आपकी आंखों में जलन हो सकती है।

अस्वीकरण: यहां दी गई जानकारी सामान्य जानकारी पर आधारित है। कृपया इसे अपनाने से पहले चिकित्सकीय सलाह लें।

यह भी पढ़ें-

Related Posts

error: Content is protected !!