Menu Close

माउस का दूसरा नाम क्या है

Mouse एक इनपुट डिवाइस है जिसका उपयोग Computer में किया जाता है। यह कर्सर को स्क्रीन के वांछित स्थान पर ले जाने में मदद करता है और उसके बटन को दबाकर उपयुक्त विकल्प का चयन करता है। यह एक छोटा सा उपकरण होता है जिसे हथेली में पकड़कर सख्त सपाट सतह पर संचालित किया जा सकता है। इस लेख में हम माउस का दूसरा नाम क्या है जानेंगे।

माउस का दूसरा नाम क्या है

माउस का दूसरा नाम क्या है

माउस का दूसरा नाम पॉइंटर है। एक माउस में कम से कम एक बटन होता है, और कभी-कभी तीन से पांच बटन तक। स्क्रीन पर कर्सर को ऊपर और नीचे ले जाने के लिए इसमें आमतौर पर दो प्रोपेलर और एक गोलाकार प्रोपेलर होता है। यह ग्राफिकल यूजर इंटरफेस के लिए विशेष रूप से महत्वपूर्ण है। ग्राफिकल यूजर इंटरफेस में यह (जीयूआई) सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला पॉइंटर इनपुट डिवाइस है, जिसे 1980 के बाद ही नई तकनीक में लाया गया।

Mouse का Full Form- Manually Operated User Selection Equipment होता है। जब हमें Computer पर दिखाई देने वाली किसी वस्तु को छूना या चुनना होता है, तो हम इसे माउस की मदद से करते हैं। Mouse को घुमाने से उसके नीचे का वृत्ताकार पहिया स्क्रीन पर कर्सर को ऊपर या नीचे ले जाने के निर्देश भेजता है।

जब हम माउस के बटन को दबाते हैं तो उस समय स्क्रीन पर जिस वस्तु पर तीर होता है, उसका चयन हो जाता है। उदाहरण के लिए, यदि हम इस पृष्ठ पर दिए गए किसी लिंक पर जाना चाहते हैं, तो हमें अपने Mouse को घुमाकर उस बिंदु पर तीर को स्थानांतरित करना होगा। फिर बटन दबाकर (क्लिक करके) हम उस लिंक को सेलेक्ट करते हैं।

आज के समय में इस्तेमाल किया जाने वाला Mouse किसी भी प्रकार के ट्रैकबॉल का उपयोग नहीं करता है, लेकिन इसमें एक सेंसर होता है जिससे प्रकाश की किरण निकलती है और प्रकाश के परावर्तन के सिद्धांत के अनुसार होती है। सूचक की दूरी, दिशा और गति निर्धारित करता है। अगर हम दक्षता की बात करें तो इसकी गति और टिकाऊपन ट्रैकबॉल वाले माउस से कहीं अधिक है।

यह भी पढ़ें-

Related Posts

error: Content is protected !!