Menu Close

जनादेश क्या होता है

अगर कोई पार्टी बहुमत लाती है तो कहा जाता है की इस पार्टी को मैंडेट (Mandate) हासिल है। यानि इस पार्टी पर ज्यादातर जनता भरोसा करती है की वह लोगों की समस्या को दूर करेगी या जो वादा करके वह चुनाव जीती वह वादे पूरा करेगी ऐसे विश्वास को आप जनादेश कह सकते है। इस आर्टिकल में हम, व्यापक रूप से जनादेश क्या होता है जानेंगे।

जनादेश (मैंडेट) क्या है

जनादेश क्या है

जनादेश वह शक्ति जो आधिकारिक तौर पर व्यक्ति या व्यक्तियों के समूह को विशिष्ट कार्य करने के लिए दी जाती है, खासकर चुनाव जीतने के बाद। राजनीति में, एक जनादेश एक निर्वाचन क्षेत्र द्वारा अपने प्रतिनिधि के रूप में कार्य करने के लिए दिया गया अधिकार है। चुनाव, विशेष रूप से जीत के बड़े अंतर के साथ, और अक्सर कहा जाता है कि नई निर्वाचित सरकार या निर्वाचित अधिकारी को कुछ नीतियों को लागू करने के लिए एक निहित जनादेश दिया जाता है। आसान भाषा में आप जनादेश को जनता ने किसी विशेष व्यक्ति या समुदाय, पार्टी को विशिष्ट कार्य करने के लिए दीया आदेश कह सकते है।

जनादेश का दूसरा अर्थ राजनीति से दूर असामान्य कार्य करने वाले लोगों पे भी लागू होता है। जिसमें समाज सुधार कार्य करके लोगों को एक प्रकार का जनादेश हासिल होता है, जिसमें जनता किसी विशिष्ट व्यक्ति पर भरोसा करती है और वह व्यक्ति लोगों के काम को सरकार का हिस्सा ना होते हुए भी करने का प्रयास करता है।

राजनीति में, जनादेश एक चुनावी प्रक्रिया द्वारा व्यक्तियों, पार्टियों या संस्थानों को उनके प्रतिनिधियों के रूप में कार्य करने के लिए दिया गया अधिकार है। लोकतांत्रिक चुनावों में निष्पक्ष जीत के माध्यम से शासन करने के लिए वैध जनादेश रखने वाली सरकार की अवधारणा प्रतिनिधि लोकतंत्र में एक केंद्रीय विचार है। कुछ परिभाषा में, जनादेश का अर्थ चुनावी जीत के बजाय चुनाव में जीती गई संसदीय सीट हो सकता है।

यह भी पढ़े –

Related Posts

error: Content is protected !!