मेन्यू बंद करे

लोहे की कढ़ाई में खाना बनाने के फायदे और नुकसान

लोहे की कढ़ाई (Iron Pan) का इस्तेमाल पहले से ही खाना पकाने के लिए किया जा रहा है। इसमें खाना बनाना सेहत के लिए अच्छा माना जाता है। लोहे की कड़ाही में खाना पकाने से उसमें मौजूद आयरन की मात्रा भोजन में अवशोषित हो जाती है। जिससे शरीर को पर्याप्त मात्रा में आयरन मिलता है। आयरन न केवल शरीर की कोशिकाओं के लिए एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है बल्कि हीमोग्लोबिन भी बढ़ाता है। यह लाल रक्त कोशिकाओं के विकास में भी मदद करता है। इस लेख में हम, लोहे की कढ़ाई में खाना बनाने के फायदे और नुकसान क्या है जानेंगे।

लोहे की कढ़ाई में खाना बनाने के फायदे और नुकसान

लोहे की कढ़ाई में खाना बनाने के फायदे

1. भरपूर मात्रा में आयरन

हम लोहे की कड़ाही में जो कुछ भी पकाते हैं, उसमें भरपूर मात्रा में आयरन होता है। जिससे हमारे शरीर में खून की कमी (एनीमिया) से जुड़ी समस्याएं दूर हो जाती हैं। लेकिन ध्यान रहे कि टमाटर या अन्य खट्टा खाना पकाने से पहले लोहे की कड़ाही को अच्छी तरह से साफ कर लें।

2. हर तरह की सब्जियां पका सकते हैं

न्यूट्रिशनिस्ट्स के मुताबिक हम हर तरह की सब्जियां लोहे की कड़ाही में पका सकते हैं। जिसमें आप पालक, बीन्स, शिमला मिर्च, कटहल, आलू, पत्तागोभी आदि सब्जियां बना सकते हैं। लोहे की कड़ाही में साग पकाना स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। यह साग में मौजूद पोषक तत्वों की मात्रा को दोगुना कर देता है।

3. साफ करना आसान

लोहे की कड़ाही को साफ करना आसान है। इसमें मौजूद ग्रीस को माइल्ड साबुन से साफ करना बहुत आसान है। अगर खाना बनाते समय कोई खाद्य पदार्थ उसमें फंस जाता है तो उसे आसानी से साफ किया जा सकता है।

4. खाना पकाने में खाना कम तेल की खपत

लोहे की कड़ाही में खाना पकाने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि खाना कम तेल की खपत में पक जाता है। अन्य धातु के बर्तनों की तुलना में लोहे की कड़ाही में थोड़े से तेल में पूरी सब्जी आसानी से पक जाती है। लोहे की कढ़ाई की देखभाल भी आसान होती है।

5. चिकन बनाने के लिए सबसे अच्छी कढ़ाई

आप तले हुए चिकन को लोहे की कड़ाही में बना सकते हैं। यह न सिर्फ आपके चिकन को बहुत स्वादिष्ट बनाता है, बल्कि इसमें कई पोषक तत्व भी मिलाए जाते हैं, जो आपकी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। इसके अलावा, लोहे की कड़ाही में गर्मी होती है। ताकि आपको इसमें ज्यादा तेल की जरूरत न पड़े।

लोहे की कढ़ाई में खाना बनाने के नुकसान

1. सब्जियां जल्दी काली हो जाती हैं

लोहे की कड़ाही में बनी हरी सब्जियां जल्दी काली हो जाती हैं। ऐसा इसमें मौजूद लौह और लौह तत्व के कारण होता है। जो सेहत के लिए ठीक नहीं है। सब्जियों के काले होने के दो कारण होते हैं, या तो बर्तन को ठीक से साफ नहीं किया जाता है या फिर आपने इसे पकाने के बाद लोहे की कढ़ाई में छोड़ दिया है। ऐसा बिल्कुल न करें।

2. लोहे की कढ़ाई में जंग जल्दी लगता है

लोहे की कड़ाही में खाना बनाते समय इस बात का ध्यान रखें कि बर्तन में जंग न लगे। इसलिए जब भी आप पैन को पकाने के बाद धो लें तो उसे सूखे कपड़े से अच्छी तरह साफ कर लें और सरसों के तेल से हल्का सा रख दें। ताकि आपके पैन में जंग ना लगे।

3. रोज लोहे की कढ़ाई में खाना बनाना गलत

रोज लोहे की कढ़ाई में खाना बनाना सही नहीं है। इनमें हफ्ते में सिर्फ दो से तीन बार ही पकाएं। लोहे की कढ़ाई धोने के लिए माइल्ड डिटर्जेंट का इस्तेमाल करें। इन बर्तनों को धोने के तुरंत बाद इन्हें कपड़े से साफ कर लें।

4. दूध को ज्यादा देर तक उबालना नुकसानदायक

दूध को लोहे की कढ़ाई में उबाला जा सकता है। लेकिन इसमें दूध को ज्यादा देर तक उबालना नहीं चाहिए। क्योंकि दूध प्रोटीन से भरपूर होता है, इसमें आयरन नहीं होता है, इसलिए यह बर्तन से आयरन को अवशोषित नहीं कर पाता है। इससे दूध में बैक्टीरिया पनपने का खतरा रहता है।

5. खट्टी चीजें बनाने से बचना चाहिए

आपको लोहे की कड़ाही में कुछ चीजें बनाने से बचना चाहिए। आम तौर पर आपको खट्टी सब्जियों को लोहे की कड़ाही में पकाना कभी नहीं भूलना चाहिए। लोहे की कड़ाही में करी, टमाटर की चटनी, सांभर आदि बनाने की सोच भी न लें।

यह भी पढ़ें-

Related Posts