Menu Close

करी पत्ता खाने के फायदे और नुकसान | Advantages and disadvantages of eating Curry leaves

करी पत्ते (Kari Patta) को मीठा नीम भी कहा जाता है। करी पत्ते खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद माने जाते हैं। इसका उपयोग देश के लगभग हर राज्य में किया जाता है, इसलिए दक्षिण भारत में इसके बिना अधिकांश व्यंजन अधूरे माने जाते हैं। इस लेख में हम करी पत्ता खाने के फायदे और नुकसान (Advantages and disadvantages of eating Curry leaves) क्या है जानेंगे।

करी पत्ता खाने के फायदे और नुकसान

करी पत्ता खाने के फायदे

1. डायबिटीज की समस्या में फायदेमंद (Beneficial in the problem of Diabetes)

अगर आपको मधुमेह की समस्या है और आप स्वाभाविक रूप से ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करना चाहते हैं तो करी पत्ते (Kari Patta) को अपने आहार में शामिल करें। इसके अलावा करी पत्ता कार्बोहाइड्रेट और मेटाबॉलिज्म को प्रभावित करता है और तनाव को कम करने में भी मदद करता है। अपने एंटी-बैक्टीरियल गुणों के कारण यह आपको स्किन इंफेक्शन से बचाने का भी काम करता है।

2. वजन कम करें (Lose weight)

अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो करी पत्ते को अपने खाने में शामिल करें। ये पत्ते शरीर को आंतरिक रूप से शुद्ध करने में मदद करते हैं और हानिकारक विषाक्त पदार्थों को निकालने का काम करते हैं। ये पत्ते शरीर में अवांछित वसा और कार्बोहाइड्रेट को भी जलाते हैं, जिससे वजन कम होता है।

3. घाव और जलन को ठीक करें (Heal wounds and burns)

जर्नल ऑफ एडवांस्ड फार्मास्युटिकल टेक्नोलॉजी एंड रिसर्च में 2010 में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि करी पत्ते एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होते हैं। करी पत्ता घाव और जलन को ठीक करने की प्रक्रिया को तेज करता है। इसमें जीवाणुरोधी गुण होते हैं, जो न केवल घावों को जल्दी भरने में मदद करते हैं बल्कि संक्रमण के जोखिम को भी कम करते हैं।

4. हार्ट अटैक खतरे को कम करें (Reduce Heart Attack risk)

करी पत्ते में हमारे शरीर के रक्त कोलेस्ट्रॉल को कम करने का गुण होता है। जिससे हम दिल की बीमारियों से दूर रह सकते हैं। आप शायद जानते हैं कि शरीर का ऑक्सीडेटिव कोलेस्ट्रॉल खराब कोलेस्ट्रॉल बनाने में मदद करता है, जिससे दिल का दौरा पड़ने का खतरा बढ़ जाता है। करी पत्ते में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो कोलेस्ट्रॉल के ऑक्सीकरण को रोकते हैं, जिससे शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा नहीं बढ़ती है।

5. पाचन तंत्र को मजबूत करें (Strengthen the Digestive system)

करी पत्ता पाचन तंत्र को मजबूत करने में भी काफी मददगार होता है। खाली पेट करी पत्ता खाने से न सिर्फ पेट दर्द की समस्या से छुटकारा मिलता है, बल्कि कब्ज, एसिडिटी और अपच जैसी समस्याओं से भी राहत मिलती है। इसके लिए आप करी पत्ते का सेवन दही या छाछ के साथ भी कर सकते हैं।

करी पत्ता खाने के नुकसान

1. एलर्जी की समस्या (Allergy problem)

करी पत्ते के इस्तेमाल से कुछ लोगों को एलर्जी की समस्या हो सकती है। बहुत से लोगों को कुछ पौधों और पत्तियों से एलर्जी होती है। इसलिए इसका सेवन न करें।

2. लो ब्लड शुगर की समस्या (Low blood sugar problem)

करी पत्ते में हाइपोग्लाइसेमिक गुण होते हैं। यह रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है, लेकिन इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से सामान्य रक्त शर्करा वाले लोगों में भी निम्न रक्त शर्करा की शिकायत हो सकती है।

3. बालों को नुकसान (Hair damage)

करी पत्ते का पेस्ट या इसका तेल लगाने से जलन हो सकती है। इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से बाल झड़ने लगते हैं।

अस्वीकरण: यहां दी गई जानकारी सामान्य जानकारी पर आधारित है। कृपया इसे अपनाने से पहले चिकित्सकीय सलाह लें।

यह भी पढ़ें-

Related Posts

error: Content is protected !!