Menu Close

कबीर साहब से भेंट किसकी रचना है

इस लेख में हम, कबीर साहब से भेंट किसकी रचना है लेखक कौन है यह सब जानेंगे। कबीर साहिब 15वीं सदी के भारतीय रहस्यवादी कवि और संत थे। वह हिंदी साहित्य के भक्ति युग में भगवान की भक्ति के एक महान प्रवर्तक के रूप में उभरे। उनके लेखन ने हिंदी क्षेत्र के भक्ति आंदोलन को गहरे स्तर तक प्रभावित किया। उनका लेखन सिखों के आदि ग्रंथ में भी देखा जाता है।

कबीर साहब से भेंट किसकी रचना है

कबीर साहब से भेंट किसकी रचना है

कबीर साहब से भेंट की रचना रामधारी सिंह दिनकर ने ‘कवि और पुस्तक’ में की है। कबीर साहब से भेंट के साथ कई अच्छे प्रकरण इस लेखक दिनकर की किताब में देखने को मिलते है। वही कबीर साहब से भेंट रचना यह प्रकरण आपको पेज नंबर 21 पर मिल जाता है। प्रकरण यह 5 पन्नो का है। यह किताब विविध प्रकरणों का संचय है।

कबीर साहेब (लगभग 14वीं-15वीं शताब्दी) का जन्म स्थान काशी, उत्तर पदेश का है। कबीर साहेब जी अपने माता-पिता से पैदा नहीं हुए थे, लेकिन वे हर युग में अपने निवास सतलोक से चलकर पृथ्वी पर अवतरित होते हैं। कबीर साहेब जी काशी के लहरतारा तालाब में कमल के फूल के ऊपर लीलामाया शरीर में बच्चे के रूप में नीरू और नीमा से मिले।

उन्होंने समाज में फैली बुराइयों, कर्मकांडों, अंधविश्वासों की निंदा की और सामाजिक बुराइयों की भी कड़ी आलोचना की। उनके जीवनकाल में कट्टर हिंदू और मुस्लिम दोनों ने उन्हें बहुत परेशान किया। कबीर पंथ नामक धार्मिक संप्रदाय उनकी शिक्षाओं का अनुयायी है।

यह भी पढ़े –

Related Posts