Menu Close

ज्यादा नींद आने का कारण क्या है

स्वस्थ व्यक्ति के लिए समय पर सोना बहुत जरूरी है। समय पर सोना भी बीमारियों को आमंत्रण देने जैसा है। अगर सोने का समय सही नहीं है तो इसके लिए आपकी जीवनशैली और खान-पान जिम्मेदार हो सकते हैं। कम सोना सेहत के लिए हानिकारक होता है, लेकिन ज्यादा सोना भी फायदेमंद नहीं होता। जांचें कि क्या आपको अधिक नींद आती है। इसके लिए आपकी खुराक जिम्मेदार हो सकती है। इस लेख में हम ज्यादा नींद आने का कारण क्या है जानेंगे।

ज्यादा नींद आने का कारण क्या है

ज्यादा नींद आने का कारण क्या है

1. पर्याप्त नींद नहीं लेना: रात की पाली में काम करना, टीवी देखना या देर रात को पढ़ना आदि हाइपरसोमनिया का कारण बन सकते हैं।

2. नशीली दवाओं के प्रयोग: नींद के पैटर्न एलर्जी और नींद की दवाएं लेने से प्रभावित हो सकते हैं। अत्यधिक नींद आने का एक कारण ड्रग्स लेना भी हो सकता है।

3. मौसम के कारण: सर्दी के मौसम में ठंड के कारण रात में बार-बार नींद टूट सकती है। ऐसा ही गर्मी के मौसम में भी हो सकता है। रात को सोते समय गहरी नींद न लेने से दिन में नींद आने की समस्या हो सकती है।

4. गंभीर बीमारी होना: हाइपोथायरायड, एसोफैगल रिफ्लक्स, निशाचर अस्थमा, आदि हाइपरसोमनिया के जोखिम कारक हो सकते हैं।

5. दूध, पनीर, पनीर: अगर आपकी थाली में दूध से बने उत्पाद जैसे पनीर, पनीर या दही ज्यादा है या आप दाल या सोयाबीन आदि ज्यादा खाते हैं तो आपको ज्यादा नींद आ सकती है।

6. भोजन में अत्यधिक तेल या मसाला: खाने में अगर आप ज्यादा तेल या मसाले मिला दें तो भी आपको ज्यादा नींद आ सकती है। भले ही आपके आहार में प्रोटीन या कार्बोहाइड्रेट की मात्रा अधिक हो, आप अधिक सो सकते हैं। ये दोनों तत्व आपके शरीर में शुगर की मात्रा को बढ़ाते हैं, जिससे आपकी नींद की अवधि भी बढ़ती है।

7. कॉफी और चाय का अत्यधिक सेवन: इसके अलावा जो लोग कैफीन का किसी भी रूप में अधिक मात्रा में सेवन करते हैं, उन्हें भी भरपूर नींद आती है, इसलिए कॉफी और चाय के अधिक सेवन से बचें।

यह भी पढ़ें-

Related Posts

error: Content is protected !!