Menu Close

Gir Cow जानकारी: गिर गाय नस्ल की पहचान, कीमत विशेषता, फायदे

गिर गाय भारत में दुधारू पशुओं की एक प्रसिद्ध नस्ल है। यह गुजरात राज्य में गिर के वन क्षेत्र और महाराष्ट्र और राजस्थान राज्यों के आसपास के जिलों में पायी जाती है। गीर एक बड़ी नस्ल है, जो अच्छी दूध उत्पादकता के लिए जानी जाती है। इस गिर नस्ल के जन्म के समय मवेशियों का वजन 1 से 2 किलोग्राम होता है, तो बैल का वजन 1 से 3 किलोग्राम और रंग लाल भूरा होता है। इसकी चौड़ाई से गिर का पता लगाना आसान हो जाता है। इस लेख में हम गिर गाय नस्ल की पहचान, कीमत विशेषता और फायदे देखेंगे।

Gir Cow जानकारी: गिर गाय नस्ल की पहचान, कीमत विशेषता, फायदे, फोटो

गिर गाय नस्ल की पहचान

इस गाय के शरीर का रंग सफेद, गहरे लाल या चॉकलेट भूरे रंग के धब्बे या कभी कभी चमकीले लाल रंग के साथ पाया जाता है। कान लंबे और लटके हुए हैं। इसकी सबसे अनूठी विशेषता इसका बाहरी माथा है, जो इसे तेज धूप के खिलाफ एक मजबूत ढाल प्रदान करता है। यह मध्यम से बड़े आकार में पाया जाता है। एक मादा का औसत वजन 5 किग्रा और ऊंचाई 150 सेमी होती है, जबकि एक नर का औसत वजन 5 किग्रा और ऊंचाई 12 सेमी होती है। उसके शरीर की त्वचा बहुत ढीली और लोचदार है। सींग पीछे की ओर मुड़े होते हैं।

  • इसकी त्वचा का रंग चिकना होता है।
  • कुछ प्रकार की गिर गायों में सफेद धब्बे होते हैं।
  • इसका सिर बड़ा है और इसका माथा बड़ा हुआ है, जिससे ऐसा लगता है कि आंखें आधी सोई हुई हैं।
  • कान लम्बे और मुड़े हुए होते हैं।
  • प्रौढ़ नस्ल वजन: 310-335 किलोग्राम
  • प्रति दिन दूध देने की क्षमता: 10-18 लीटर

गिर गाय के दूध की विशेषता

गिर गाय में प्रति दिन 3-8 लीटर दूध देने की क्षमता है। भारतीय किसान के जीवन को पूरक करने के लिए असाधारण प्रतिरक्षा, सहनशक्ति और सुदृढ़ बुद्धि का स्त्रोत इसका दूध है।

गिर गाय की कीमत

गिर गाय महंगी गायों की गिनती में आती है, इसलिए महाराष्ट्र, गुजरात और मध्यप्रदेश में इन गायों की कीमत 80,000 से लेकर 2,50,000 भारतीय रुपये है।

गिर गाय कितना दूध देती है

इस गायों का दूध ज्यादा पौष्टिक माना जाता है। यह गाय रोजाना 15 लीटर से ज्यादा दूध देती है। उसके दूध में 4.5% वसा होता है। इसका औसत दूध उत्पादन लगभग 120 किलोग्राम है। यह दुधारू जानवर विभिन्न जलवायु और गर्म स्थानों में आसानी से रह सकता है।

गिर गाय के दूध के फायदे

वैसे देखा जाए तो, भैंस और बाकी जानवरों की तुलना में गाय का दूध अच्छा होता है। लेकिन जानकार इस गाय के दूध को और विशेष मानते है, इससे तंदूरस्ती और हड्डी में मजबूती प्रदान होती है।

गिर गाय बाजार मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात

गिर गायों का सबसे ज्यादा उपयोग मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात इन तीनों राज्यों में होता है। इस की दूध देने की क्षमता अच्छी होने के कारण इसकी मांग हमेशा से रही है। इसीलिए इन्हे खरीदने का बाजार भी इन तीनों राज्यों में मिलता है।

गिर गाय की बछिया

यह गाय अपनी अच्छी रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए भी प्रसिद्ध है। वह नियमित रूप से जन्म देती है। पहले बछड़ों का जन्म 6 वर्ष की आयु में होता है।

यह भी पढे:

Related Posts

error: Content is protected !!