Menu Close

हंस किस देवता का वाहन है

इस लेख में हम, हंस किस देवता का वाहन है इसे जानेंगे। इसके साथ इसकी विस्तृत जानकारी को भी यहा रखेंगे, जो शायद आपको पसंद आ सकती है। तो चलिए जानते है..

हंस किस देवता का वाहन है

हंस किस देवता का वाहन है

हंस ज्ञान में देवी देवता में श्रेष्ट मां सरस्वती का वाहन है। मां सरस्वती को साहित्य, संगीत और कला की देवी माना जाता है। मां विचार, भावना और संवेदना का त्रिगुणात्मक समन्वय है। लोक चर्चा में सरस्वती को शिक्षा की देवी माना जाता है। शिक्षण संस्थानों में वसंत पंचमी के दिन सरस्वती जयंती समारोहपूर्वक मनाई जाती है। किसी जानवर को इंसान बनाने का श्रेय – अंधों को आंखें देने का श्रेय शिक्षा को जाता है।

चिंतन से ही मनुष्य मनुष्य बनता है। ध्यान बुद्धि का विषय है। भौतिक प्रगति का श्रेय बुद्धि-प्रभुत्व को देना और इसे सरस्वती की कृपा मानना ​​भी उचित है। इस उपलब्धि के बिना मनुष्य को मनुष्य और वानर की तरह वनमानुष की तरह जीवन जीना पड़ता है। लोगों को शिक्षा के महत्व और बौद्धिक विकास की आवश्यकता को समझाने के लिए सरस्वती अर्चना की परंपरा है। इसे गायत्री महाशक्ति के तहत बुद्धि पक्ष की पूजा कहा जाना चाहिए।

देवी सरस्वती के अलावा हंस किस देवता का वाहन है

देवी सरस्वती के अलावा हंस देवता में भगवान ब्रम्हा का वाहन है। माँ सरस्वती हिंदू धर्म की प्रमुख वैदिक और पौराणिक देवियों में से एक हैं। सनातन धर्म शास्त्रों में दो सरस्वती, एक ब्रह्मा पत्नी सरस्वती और एक ब्रह्मा पुत्री और विष्णु पत्नी सरस्वती का वर्णन मिलता है। ब्रह्मा की पत्नी सरस्वती सतोगुण महाशक्ति में से एक है और मूल प्रकृति से जन्मी मुख्य त्रिमूर्ति और विष्णु की पत्नी सरस्वती को ब्रह्मा की जीभ की उपस्थिति के कारण ब्रह्मा की पुत्री माना जाता है।

कई शास्त्रों में, उन्हें मुरारी वल्लभ (विष्णु की पत्नी) के रूप में भी संबोधित किया जाता है। धार्मिक शास्त्रों के अनुसार दोनों देवी-देवताओं को एक ही नाम, प्रकृति, शक्ति और ज्ञान के अधिष्ठाता देवता माने गए हैं, इसलिए उनके ध्यान और पूजा में अधिक अंतर नहीं है। दक्षिणामूर्ति/नटराज शिव और सरस्वती दोनों को ब्रह्मविद्या और नृत्य संगीत के क्षेत्र का संस्थापक माना जाता है, इसीलिए दुर्गा सप्तशती के रहस्य में दोनों को एक ही प्रकृति का बताया गया है, इसलिए सरस्वती के 108 नामों में वे शिवानुज (शिव के) कहलाते हैं। छोटी बहन) को भी संबोधित किया जाता है।

इस लेख में हमने, हंस किस देवता का वाहन है इसे जाना। बाकी ज्ञानवर्धक जानकारी केलिए नीचे दिए गए लेख पढ़े:

Related Posts

error: Content is protected !!