Menu Close

FASTag क्या है और इसे कैसे लगाए | जानें सबकुछ

भारत सरकारने देश मे आज रात से सभी टोल नाको पर FASTag को अनिवार्य कर दिया है. FASTag एक ऑटोमेटिक पेमेंट सिस्टम का हिस्सा है जिससे वाहनों का पेमेंट आसानी के साथ हो पाएगा. यह मोबाईल रिचार्ज की तरह गाड़ी मालिकों को इसका पेमेंट करना होगा. इसका फायदा वाहनचालक को होगा, जिससे उसे बेवजह टोल नाकों पर रुकना नहीं पड़ेगा. अगर आपके गाड़ी पर FASTag नहीं है तो आपको मौजूद टोल पर दुगना जुर्माना भरना पड सकता है. अगर आप इस समस्या से बचना चाहते हो तो कुछ आसान स्टेप के साथ इस FASTag को ऑर्डर करलो. हमने आपके लिए FASTag बनवाने का आसान तरीका नीचे दिया हुआ है.

Fastag kya hai aur ise kaise lagaye

FASTag क्या है

FASTag मे रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) का इस्तेमाल होता है. इस टैग को विंडस्क्रीन लगाने के बाद आप जब भी गाड़ी को लेकर टोल प्लाजा पर आते हो तब टोल प्लाज़ा पर लगा सेन्सर वाहन के विंडस्क्रीन पर लगे फास्टैग को ट्रैक कर लेता है और आपके खाते से उतना शुल्क कट जाता है. ऐसी ही आपके खाते से रक्कम खत्म होती जाती है . जिसे आपको रिचार्ज करवाना पड़ता है. हमने नीचे FASTag क्या है और इसेकैसे बनवाते है इसकी प्रक्रिया दी हुई है.

इसे भी पढे: जानें, विश्व के 10 सबड़े बड़े धर्म कौनसे है?

PayTM से बनवाए FASTag

  • FASTag बनवाने के लिए सबसे पहले आपको PayTM एप मे जाना होना
  • आपको ऊपर ही FASTag ऑप्शन मिल जाएगा , अगर नहीं मिलता है तो सर्च बार मे सर्च करे
  • इसके बाद FASTag पर क्लिक करे और व्हीकल रजिस्ट्रेशन नंबर एंटर करें
  • उसके बाद नीचे गाड़ी के RC का फ्रन्ट और बैक का फोटो मौजूद दो विकल्पों के माध्यम से सिलेक्ट करके अपलोड करे.
  • इसके बाद अपना डिलीवरी एड्रेस कन्फर्म कर के पेमेंट करें 
  • यही पूरी प्रोसेस होने के बाद FASTag आपके पते पर भेज दिया जाएगा 

इसे भी पढे: ऑनलाइन गैस सब्सिडी कैसे चेक करें | आसान तरीका जानें

बैंक के ग्राहक है तो ऐसे खरीदे FASTAG 

  • सबसे पहले आपको ऑनलाइन FASTag एप्लिकेशन वेबसाइट पर जाए.
  • आपका नाम, पता, जन्मतिथि, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, आदि भरें.
  • केवाईसी डाक्यमेन्ट विवरण (ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, या आधार कार्ड) दर्ज करें.
  • अब आप वाहन रेजिस्ट्रैशन सर्टिफिकेट (RC) नंबर दर्ज करे.
  • सभी दस्तावेजों की स्कैन कॉपी अपलोड करें
  • इसके बाद FASTag आपके पते पर डिलीवर हो जाएगा.

आपका आवेदन जमा होने के बाद आपका FASTag अकाउंट बन जाता है. इस खाते को आप ऑनलाइन या एप के जरिए एक्सेस कर पाओगे. इस टैग की अधिकतम रिचार्ज की रक्कम 1 लाख तक है.

इसे भी पढे: जानें, किसी अन्य सिम को कैसे जिओ मे पोर्ट करे

Related Posts