Menu Close

दुनिया में सबसे महंगी मुद्रा किस देश की है

जब भी दुनिया की सबसे मजबूत मुद्राओं की बात आती है, तो डॉलर हमेशा हमारे दिमाग में आता है क्योंकि हम हर दिन सुनते और पढ़ते हैं कि डॉलर के मुकाबले हमारा रुपया कितना ऊपर और गिर गया है। सच तो यह है कि डॉलर सबसे मजबूत मुद्रा नहीं है। फिर सवाल यह है कि दुनिया में सबसे महंगी मुद्रा किस देश की है और भारतीय रुपये में इनकी कीमत कितनी होती है। तो आइए जानते हैं कौन हैं दुनिया की टॉप 5 सबसे मजबूत करेंसी।

सबसे महंगी मुद्रा किस देश की है

1. कुवैती दीनार

दुनिया में सबसे महंगी मुद्रा किस देश की है

दुनिया का सबसे महंगी मुद्रा दीनार है, जो कुवैत देश की मुद्रा है। यह 1000 फिल्स से समविभाजित है। यह दुनिया की सबसे उच्च मूल्य वाली मुद्रा है। इस मुद्रा को संक्षेप में KWD लिखा जाता है। जनवरी 2022 में 1 KWD की कीमत 246 भारतीय रुपये और 1 KWD का मूल्य $3.30 अमेरिकी डॉलर होता है।

दीनार 1961 में खाड़ी रुपये को बदलने के लिए जारी किया गया था। प्रारंभ में यह एक पाउंड स्टर्लिंग के बराबर था, क्योंकि रुपया एक शिलिंग 6 पेंस पर तय किया गया था, जिसके परिणामस्वरूप 13⅓ रुपये की एक दीनार में परिवर्तन दर हुई। 1990 में इराक के कब्जे के दौरान, कुवैती दिनार को इराकी दीनार से बदल दिया गया था। कब्जे से मुक्त होने के बाद कुवैती दीनार की एक नई श्रृंखला जारी की गई है।

जब 1990 में इराक ने कुवैत पर हमला किया तो इराकी दीनार ने कुवैती दिनार को मुद्रा के रूप में बदल दिया और हमलावर बलों द्वारा बड़ी मात्रा में बैंक नोट चुरा लिए गए। मुक्ति के बाद, कुवैती दिनार को देश की मुद्रा के रूप में बहाल कर दिया गया था और एक नई बैंकनोट श्रृंखला पेश की गई थी, जिससे पिछले नोटों, जिनमें चोरी हुए नोट भी शामिल थे, को विमुद्रीकृत किया जा सकता था।

2. बहरीन दीनार

दुनिया में सबसे महंगी मुद्रा किस देश की है

बहरीन दिनार, बहरीन देश की मुद्रा है। यह दुनिया की दूसरी सबसे महंगी मुद्रा है। इस मुद्रा को संक्षेप में BD लिखा जाता है। जनवरी 2022 में 1 BD की कीमत 197 भारतीय रुपये और $2.65 अमेरिकी डॉलर होता है।

दीनार नाम रोमन दीनार से निकला है। बहरीन दीनार को 1965 में 10 रुपये = 1 दीनार की दर से खाड़ी के रुपये के स्थान पर पेश किया गया था। यह शुरू में एक पाउंड स्टर्लिंग (15 शिलिंग) के 3/4 के बराबर था। उस समय बहरीन के सिक्के और नोट चलन में थे। प्रारंभ में, अबू धाबी ने बहरीन दीनार को अपनाया लेकिन 1973 में 1 दिरहम = 100 फिल्स = 0.1 दीनार के साथ दिरहम में बदल गया।

3. ओमन रियाल

दुनिया में सबसे महंगी मुद्रा किस देश की है

ओमान रियाल, ओमान की मुद्रा है। यह दुनिया की दूसरी सबसे तीसरी उच्च मूल्य वाली मुद्रा है। इस मुद्रा को संक्षेप में ر.ع लिखा जाता है। जनवरी 2022 में 1ر.ع की कीमत 193 भारतीय रुपये और $2.60 अमेरिकी डॉलर होता है।

2010 में 40वें राष्ट्रीय दिवस के अवसर पर 5, 10, 20 और 50-रियाल के नए नोट जारी किए गए। 20-रियाल के नोट हरे रंग के बजाय नीले रंग के होते हैं जबकि अन्य नोट पहले की तरह ही रंग के होते हैं। 2015 में, “45 वें राष्ट्रीय दिवस” ​​के उपलक्ष्य में एक बैंगनी 1 रियाल नोट जारी किया गया था।

30 जुलाई 2019 के बाद, 1 नवंबर 1995 से पहले जारी किए गए सभी बैंक नोट अमान्य हो गए, साथ ही बिना फ़ॉइल स्ट्रिप्स के उस तारीख को जारी किए गए 5 से 50 रियाल के बैंक नोट भी अमान्य हो गए। फॉइल स्ट्रिप्स के साथ 1995 श्रृंखला के 5 से 50 रियाल बैंकनोट, 2000 से प्रचलन में जारी किए गए, वैध बने हुए हैं।

4. जॉर्डन दीनार

जॉर्डन दीनार

जोर्डन दीनार, जोर्डन की मुद्रा है। यह दुनिया की सबसे चौथी उच्च मूल्य वाली मुद्रा है। इस मुद्रा को संक्षेप में د.ا लिखा जाता है। जनवरी 2022 में 1د.ا की कीमत 105 भारतीय रुपये और $1.41 अमेरिकी डॉलर होता है। जॉर्डन के सेंट्रल बैंक ने 1964 में परिचालन शुरू किया और जॉर्डन मुद्रा बोर्ड के स्थान पर जॉर्डन की मुद्रा का एकमात्र जारीकर्ता बन गया। जॉर्डन के दीनार का व्यापक रूप से वेस्ट बैंक में इजरायली मुद्रा के साथ उपयोग किया जाता है।

5. ब्रिटिश पाउंड

ब्रिटिश पाउंड

ब्रिटिश पाउन्ड, ब्रिटेन की मुद्रा है। यह दुनिया की सबसे पाँचवी उच्च मूल्य वाली मुद्रा है। इस मुद्रा को संक्षेप में £ लिखा जाता है। जनवरी 2022 में 1£ की कीमत 100 भारतीय रुपये और $1.35 अमेरिकी डॉलर होता है। अमेरिकी डॉलर और यूरो के बाद पाउंड दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी आरक्षित मुद्रा है। पाउंड स्टर्लिंग विदेशी मुद्रा बाजार में अमेरिकी डॉलर, यूरो और जापानी येन के बाद चौथी सबसे ज्यादा प्रचलित मुद्रा है।

यह भी पढे –

Related Posts

error: Content is protected !!