Menu Close

डॉक्यूमेंट को प्रीव्यू करने का क्या फायदा है

जब भी हम कोई फॉर्म ऑनलाइन भरते हैं, या माइक्रोसॉफ्ट वर्ड, ऑफिस आदि डॉक्यूमेंट एडिटर में किसी डॉक्यूमेंट को एडिट करते हैं, तो हमें उसे प्रिंट करने से पहले एक बार उसका प्रीव्यू करना चाहिए। तो इसीलिए इस लेख में हम, डॉक्यूमेंट को प्रीव्यू करने का क्या फायदा है जानेंगे।

डॉक्यूमेंट को प्रीव्यू करने का क्या फायदा है

डॉक्यूमेंट को प्रीव्यू करने का क्या फायदा है

जब आप कोई भी फॉर्म ऑनलाइन या ऑफलाइन भरते हैं तो उसे सबमिट करने से पहले हम जांचते हैं कि कहीं कोई गलती तो नहीं है, कहीं कोई गलती तो नहीं है। जिससे हम अपनी गलतियों को सुधार पाते हैं, यह डॉक्यूमेंट को प्रीव्यू करने का सबसे बड़ा फायदा है।

जब हम किसी वेबसाइट पर जाते हैं, चाहे वह सरकारी योजना से संबंधित हो या बैंकिंग वेबसाइट से। वहां हम कई बार फॉर्म भरते हैं, लेकिन उसके बाद हमें एक बार प्रीव्यू करना होता है, इसके अलावा यदि आप मैक्रोसॉफ्ट वर्ड, गूगल वर्ड आदि का उपयोग करते हैं, तो डॉक्यूमेंट को प्रीव्यू करने का एक विकल्प भी है, जिसे आपको प्रिन्ट से पहले एक बार फिर से चेक कर देखना होता है, इसे ही डॉक्यूमेंट प्रीव्यू कहा जाता है।

डॉक्यूमेंट को प्रीव्यू का उपयोग करने वाले अधिकांश लोग अपनी गलतियों को जानने के लिए ही ऐसा करते हैं। जो एक बहुत बड़ा फायदा माना जा सकता है। क्योंकि हमें कोई भी दस्तावेज बिना गलत भरे या गलत लिखे जमा करने पर बाद में पछताना पड़ता है। इसका सबसे बड़ा फायदा यह है कि डाक्यमेन्ट में लिखी गलतियों के बारे में पता चल जाता है।

आसान शब्दों में कहें तो किसी भी डॉक्यूमेंट को रीचेक करना यानी दोबारा चेक करना डॉक्यूमेंट प्रीव्यू कहलाता है। ऐसा हमारी ऑफलाइन लाइफ में भी होता है, जैसे मान लीजिए आप किसी बैंक में अकाउंट खोलने गए थे। वहां आपको एक फॉर्म दिया जाता है जिसे आपको भरना होता है। आप इसे भी सही-सही भरें, लेकिन फिर भी दोबारा जांच लें कि कहीं कोई गलती तो नहीं है। यह भी एक डॉक्यूमेंट को प्रीव्यू है।

Related Posts

error: Content is protected !!