Menu Close

Credit, Debit, ATM Card पर लिखा CVV नंबर क्या होता है? जानें

आपने अक्सर Credit, Debit, ATM Card पर लिखा CVV Code देखा होगा, और आपको भी यह सवाल पड़ता होगा की आखिर इसका मकसद क्या होता होगा. अगर आपको CVV नंबर नहीं पता इसका मतलब आप ज्यादातर ऐसे Card का प्रयोग ATM से पैसे निकालने के लिए करते होंगे. जहा आपको सिर्फ पिन नंबर डालना पड़ता है, नहीं तो आप कार्ड का इस्तेमाल ही नहीं करते हो. इस लेख में हम, Credit, Debit, ATM Card पर लिखा CVV नंबर क्या होता है? यह क्यों जरूरी है और इस नंबर कैसे पता करे? इसे जानेंगे।

Credit, Debit, ATM Card पर लिखा CVV नंबर क्या होता है

आपने देखा होगा की कार्ड के एक साइड कार्ड नंबर, कार्ड होल्डर का नाम, एक्स्पाइरी डेट आदि सभी जानकारी मौजूद रहती है, लेकिन CVV नंबर कार्ड के पीछे मौजूद होता है. आप जब भी किसिको ऑनलाइन पेमेंट करते है, तब आपके ATM नंबर की जगह CVV नंबर लेता है. मतलब आपको ऐसे ऑनलाइन पेमेंट करने के लिए कार्ड नंबर के साथ लास्ट मे CVV नंबर डालना पड़ता है. तभी आपकी पेमेंट पूरी होती है.

CVV नंबर का क्या मतलब होता है

CVV नंबर कार्ड के पीछे लिखा हुआ 3 अंक का सीक्रिट कोड होता, जो आपकी ट्रैन्सैक्शन को सुरक्षित बनाता है. दरसल CVV नंबर एक तरह का सिक्युरिटी कोड होता है. जिसका फूल फॉर्म Card Verification Value होता है. इसे Card Verification Code भी कहा जाता है. जिसे हिन्दी मे कार्ड सत्यापन कोड भी कहते है. शुरुवाती दिनों मे इसमे 11 डिजिट तक नंबर्स होते थे जो बिल्कुल ही सुविधाजनक नहीं थे. इसलिए ग्राहकों की सुविधा का ध्यान रखते हुए इसको कम कर दिया है. भारत के अलावा कुछ देशों मे CVV नंबर 3 से लेकर 4 डिजिट तक होते है.

आपकी जानकारी के लिए हम बता दे की CVV नंबर का आविष्कार 1995 मे यूनाइटेड किंगडम मे माइकल स्टोन ने किया था. बाद मे इन बातों पर रिसर्च होनेपर पता चला की ये नंबर इस कार्ड को सुरक्षित रखने मे कारगर साबित हो सकता है. यही बात थी की ये सिलसिला आजतक चल रहा है.

CVV Code क्यों जरूरी है

CVV Code जरूरी है क्युकी आपके Credit, Debit या ATM Card मे कुछ जानकारी मौजूद होती है. जो कुछ ऑनलाइन और कुछ ऑफलाइन एक्सेस की जा सकती है. जब आप कार्ड किसी ATM मशीन मे डालते हो तो कार्ड पे मौजूद जानकारी ATM के बैंक सर्वर को जाती है, इसका मतलब सर्वर पर आपका खाता दिखाने के काम आपका कार्ड करता है. इसके आगे जब ATM मे पिन नंबर डालते हो, तब जाकर आपका अकाउंट एक्सेस होता है. मतलब सिर्फ कार्ड मे मौजूद जानकारी के अलावा भी आपको जानकारी डालना पड़ती है.

ठीक वैसे ही, आपके अकाउंट को और सुरक्षित करने के लिए जब आप ऑनलाइन खरीदारी करते हो तब आपको कार्ड नंबर, कार्ड एक्स्पाइरी डेट के अलावा CVV नंबर डालना पड़ता है. ध्यान रखे की आपका ये नंबर किसी और को पता ना चल सके. नहीं तो आपके बिना जानकारी के कोई भी व्यक्ति आपका कार्ड अनलाइन एक्सेस कर पाएगा. इसलिए आपको ये नंबर को लोगों से छुपाकर रखना चाहिए.

 Credit, Debit, ATM Card का CVV नंबर कैसे पता करे

Credit, Debit, ATM Card का CVV नंबर कैसे पता करे

आमतौर पर सभी बैंक ग्राहकों के पास ATM Card होता है, और जिनके पास नहीं है वो बैंक का ATM Form भरकर कुछ दिनों मे ये कार्ड ले सकते है. बहरहाल, जो भी कार्ड आपके पास है उसके पीछे जो चुंबकीय काली पट्टी रहती है वह राइट साइड मे आपको तीन डिजिट का यह CVV नंबर देखने को मिलता है.

यह भी पढे:

Related Posts