Menu Close

Category: इतिहास

१८५८ का अधिनियम, महारानी का घोषणापत्र: विशेषताएं और महत्व

1858 के क्रांति के बाद महारानी के घोषणापत्र में क्या कहा

1857 का विद्रोह कंपनी सरकार की सेना में हिंदी सैनिकों का विद्रोह था; अंग्रेजों ने इसे लोगों का समर्थन न होने के रूप में कितना…

सविनय अवज्ञा आंदोलन के क्या परिणाम हुए

सविनय अवज्ञा आंदोलन के क्या परिणाम हुए

इस लेख में हम, सविनय अवज्ञा आंदोलन के क्या परिणाम हुए यह जानेंगे। सविनय अवज्ञा आंदोलन महात्मा गांधी के नेतृत्व में शुरू हुआ था, जिसकी…

अंग्रेजो के खिलाफ पहला विद्रोह कब और कहा हुआ

अंग्रेजो के खिलाफ पहला विद्रोह कब और कहा हुआ

1857 का भारतीय विद्रोह, जिसे प्रथम भारतीय स्वतंत्रता संग्राम, सिपाही विद्रोह और भारतीय विद्रोह के रूप में भी जाना जाता है, ब्रिटिश शासन के खिलाफ…

ब्रिटिशकालीन भारत में स्थानीय स्वशासन

ब्रिटिशकालीन भारत में स्थानीय स्वशासन

देश को केवल स्वतंत्र मिलना काफी नहीं होता; यह आजादी लोगों तक पहुंचानी पड़ती है। ‘स्वशासन का विचार’ केवल केंद्र या प्रांतीय सरकारों के जन-प्रतिनिधि…

भारत में ईस्ट इंडिया कंपनी & ब्रिटिश सरकार की प्रेस नीति (Press Policy)

भारत में अंग्रेज सरकार की प्रेस नीति कैसी थी

मुगल काल में या मराठा साम्राज्य में आज की तरह उपलब्ध नहीं थे। आधुनिक समाचार पत्रों का उदय ईस्ट इंडिया कंपनी के शासनकाल के दौरान…

error: Content is protected !!