Menu Close

कॉल बैरिंग क्या है

आज मोबाइल जीवन का हिस्सा बन गया है। अगर आप स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं तो आपको यह जानना होगा कि फोन में कॉल बैरिंग क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे किया जाता है? जैसा कि आप जानते हैं कि फोन में कई सारे फीचर्स दिए जाते हैं लेकिन लोग सभी सुविधाओं का इस्तेमाल नहीं करते। क्योंकि उन्हें इन सभी सेटिंग्स की जानकारी नहीं होती है। कभी-कभी आपके मोबाइल पर अनावश्यक कॉल आती हैं, इसलिए आप उन्हें ब्लॉक कर देते हैं, इसी तरह यदि आप किसी भी नंबर पर कॉल करने की सेवा को रोकना चाहते हैं, तो कॉल बैरिंग आपके लिए बहुत मददगार हो सकती है। आइए जानते हैं, कॉल बैरिंग क्या है ? और Call Barring का इस्तेमाल कब और कैसे करें?

कॉल बैरिंग क्या है ? और Call Barring का इस्तेमाल कब और कैसे करें

कॉल बैरिंग क्या है – What Is Call Barring In Hindi

कॉल बैरिंग आपको अपने फोन पर इनकमिंग और आउटगोइंग कॉल को रोकने की अनुमति देता है। यह तब के लिए एकदम सही है जब आप विदेश में हों या यदि आपके पास एक काम और व्यक्तिगत सिम जुड़ा हुआ है और आप अपने अवकाश के दिन अपने कार्य नंबर के माध्यम से संपर्क नहीं करना चाहते हैं। कॉल बैरिंग के भीतर, आप अपनी आवश्यकताओं के अनुरूप कुछ सेटिंग्स को सक्षम या अक्षम कर सकते हैं, ताकि आप कॉल प्राप्त न करें या न भेजें। 

फोन में Call Barring का उपयोग कैसे करें

अगर आप कॉल बैरिंग का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो यह बहुत आसान है क्योंकि कॉल बैरिंग का विकल्प सभी मोबाइल में छोटा या बड़ा होता है। अगर आपके पास Android सेट है तो Settings > Call Setting > Call Barring का ऑप्शन मिलता है। यहां से आप अपनी सुविधा के अनुसार इनकमिंग कॉल, आउटगोइंग कॉल या इंटरनेशनल कॉल ऑफ (कॉल बैरिंग आपको इनकमिंग और आउटगोइंग कॉल को रोकने की अनुमति देता है) कर सकते हैं।

डायल नंबर द्वारा कॉल बैरिंग सेवा को सक्षम या अक्षम कैसे करें?

नंबर के आधार पर कॉल बैरिंग विकल्प को सक्षम करना बहुत आसान है। सबसे पहले डेली पैड को ओपन करें। और *31# डायल करें। इसके बाद कॉल बैरिंग इनेबल हो जाएगी।

कॉल बैरिंग विकल्प को कैसे निष्क्रिय करें?

कॉल बैरिंग विकल्प को अक्षम करने के लिए, डायल पैड खोलें और #31# डायल करें। इन सभी प्रक्रियाओं को उसी नंबर से करना होगा जिसकी कॉल को डिसेबल या इनेबल करना है। अगर आप सिम 1 की कॉल को डिसेबल करना चाहते हैं तो सिम 1 को सेलेक्ट करें वरना आप सिम 2 को भी सेलेक्ट कर सकते हैं।

इस तरह आप किसी भी फोन में कॉल बैरिंग ऑप्शन को एक्टिवेट या डीएक्टिवेट कर सकते हैं। यहां तक ​​कि अगर आपके पास कीपैड फोन है, तो भी आप उसी प्रक्रिया का पालन कर सकते हैं।

आपने इस लेख में, कॉल बैरिंग क्या है ? और Call Barring का इस्तेमाल कब और कैसे करें इसे जाना। बाकी ज्ञानवर्धक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लेख पढ़े।

Related Posts

error: Content is protected !!