मेन्यू बंद करे

महिलाओं के लिए शतावरी के फायदे

Benefits of Shatavari for women: Shatavari एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है जिसका वैज्ञानिक नाम ‘Asparagus racemosus’ है। आयुर्वेद के अनुसार शतावरी का सेवन सौ से अधिक बीमारियों को ठीक करने में कारगर माना जाता है। आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों के अलावा भारत के कई क्षेत्रों में इसका उपयोग सब्जी के रूप में भी किया जाता है।

महिलाओं के लिए शतावरी के फायदे
Benefits of Shatavari for Women in Hindi

आयुर्वेद में महिलाओं की कई समस्याओं का प्राकृतिक रूप से इलाज किया जा सकता है। यौन समस्याएं हों या गर्भावस्था से जुड़ी समस्याएं, हर समस्या को दूर करने में आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों का विशेष महत्व है। इन्हीं जड़ी-बूटियों में से एक है शतावरी, यह एक ऐसी जड़ी-बूटी है जिसकी मदद से शरीर की कई समस्याओं को दूर किया जा सकता है। आइए, महिलाओं के लिए महिलाओं के लिए शतावरी के फायदे क्या है जानते है।

महिलाओं के लिए शतावरी के फायदे

1. मासिक धर्म के दौरान फायदेमंद (Beneficial during menstruation)

शतावरी का सेवन महिलाओं के लिए पीरियड्स की समस्या को दूर करने में फायदेमंद हो सकता है। Shatavari के सेवन से यह पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द और ऐंठन को कम करने में कारगर है। इसके अलावा इस दौरान शारीरिक कमजोरी को दूर करने में भी शतावरी फायदेमंद हो सकती है।

2. वजन घटाने में कारगर (Effective in weight loss)

शरीर में कई तरह के हार्मोनल बदलाव के कारण इन दिनों महिलाओं का वजन काफी बढ़ रहा है। ऐसे में शतावरी का सेवन महिलाओं के लिए फायदेमंद हो सकता है। शतावरी में घुलनशील फाइबर और अघुलनशील फाइबर होता है, जो शरीर की अतिरिक्त चर्बी को कम करके मोटापे को नियंत्रित करने में कारगर हो सकता है।

3. माइग्रेन में फायदेमंद (Beneficial in Migraine)

माइग्रेन (Migraine) एक ऐसी समस्या है, जिससे मरीजों को काफी दर्द का सामना करना पड़ता है। ऐसे में माइग्रेन के इलाज में शतावरी एक कारगर जड़ी-बूटी हो सकती है। इसके इस्तेमाल से माइग्रेन से पीड़ित मरीजों का जल्द से जल्द इलाज किया जा सकता है। दरअसल, शतावरी में राइबोफ्लेविन नामक विटामिन पाया जाता है, इसलिए यह माइग्रेन के इलाज में कारगर दवा हो सकती है।

4. गर्भावस्था और प्रसव के बाद उपयोगी (Useful During Pregnancy and after Delivery)

महिलाओं को गर्भधारण करने में मदद करने के अलावा इसे गर्भावस्था में महिलाओं के लिए भी फायदेमंद माना गया है। दरअसल, इसमें उच्च मात्रा में फोलेट होता है और गर्भावस्था के दौरान महिला की फोलेट की जरूरतें बढ़ जाती हैं। यह भ्रूण के मस्तिष्क से उसके अंगों तक के विकास में सहायक होता है।

5. शरीर में तनाव कम करें (Reduce Stress in the Body)

अगर आप अक्सर तनाव, चिंता या डिप्रेशन के शिकार होते हैं तो शतावरी का सेवन आपके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। शरीर में तनाव का स्तर बढ़ने से हार्मोन्स गड़बड़ा जाते हैं। लेकिन शतावरी का सेवन करने से हार्मोन का संतुलन बना रहता है। जिससे शरीर का तनाव कम होता है।

6. शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएं (Immunity)

शतावरी एक एंटी-ऑक्सीडेंट है, जिसका सेवन महिलाओं की रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है और उनके शरीर को बीमारियों से दूर रखता है। शतावरी शरीर में सुरक्षा कवच का काम करती है।

7. गर्भावस्था में वरदान है शतावरी (Shatavari Beneficial in Pregnancy)

गर्भवती महिलाओं के लिए शतावरी का सेवन बहुत फायदेमंद हो सकता है। दरअसल, शतावरी में फोलेट होता है, जो गर्भ में पल रहे बच्चे और मां दोनों के लिए फायदेमंद होता है। इसलिए कई आयुर्वेद विशेषज्ञ गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को शतावरी का सेवन करने की सलाह देते हैं।

यह भी पढ़ें-

Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य जानकारी पर आधारित है। कृपया इसे अपनाने से पहले किसी विशेषज्ञ या डॉक्टर से सलाह लें।

Related Posts