Menu Close

Ayushman Bharat Card कैसे बनाए | आयुष्मान भारत कार्ड के फायदे

देश के वे गरीब लोग जो अपनी आर्थिक तंगी और हालत से परेशान हैं और जिनके पास इलाज कराने के लिए पैसे नहीं हैं। देश सरकार ने उनके लिए Ayushman Bharat Golden Card शुरू किया है। आज भी देश में एक बड़ा वर्ग है जो Health Insurance का खर्च वहन नहीं कर सकता है। ऐसे में सरकार ने कमजोर आय वर्ग के लोगों को सस्ती स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने की योजना शुरू की है। इस लेख में आसान हिन्दी में हम आयुष्मान भारत कार्ड योजना क्या है, Ayushman Bharat Card के लिए आवश्यक दस्तावेज, Ayushman Bharat Card कैसे बनाए और आयुष्मान कार्ड के फायदे क्या है जानेंगे।

आयुष्मान कार्ड के फायदे | Ayushman Bharat Card कैसे बनाए

Ayushman Bharat Card योजना क्या है

Ayushman Bharat Card योजना की शुरुआत भारत के प्रधानमंत्री ने साल 2018 में की थी जिसके तहत लोगों को 5 लाख का Health Insurance दिया जाता है। आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड का एक हिस्सा है, जिसके जरिए गरीब लोग मुफ्त में अस्पतालों में जाकर अपना इलाज करा सकते हैं।

अस्पताल में भर्ती होने के बाद मरीज को अपने बीमा दस्तावेज उपलब्ध कराने होंगे। इसके आधार पर, अस्पताल बीमा कंपनी को इलाज की लागत के बारे में सूचित करेगा और एक बार बीमित व्यक्ति के दस्तावेजों का सत्यापन हो जाने के बाद, बिना कोई पैसा दिए इलाज किया जा सकता है।

आयुष्मान भारत योजना के तहत बीमित व्यक्ति न केवल सरकारी बल्कि निजी अस्पतालों में भी अपना इलाज करा सकेगा। इस योजना के तहत, सरकार देश भर में 1.5 लाख से अधिक स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र खोलेगी, जो आवश्यक दवाएं और नैदानिक सेवाएं मुफ्त प्रदान करेंगे।

इस योजना के तहत मातृ स्वास्थ्य एवं प्रसव सुविधा, नवजात एवं शिशु स्वास्थ्य, गर्भनिरोधक सुविधा एवं संचारी, असंक्रामक रोगों, आंख, नाक, कान एवं गले से संबंधित रोग के प्रबंधन की सुविधा के लिए पृथक इकाई होगी। बुजुर्गों का भी इलाज किया जा सकता है।

Ayushman Bharat Card के लिए आवश्यक दस्तावेज

  1. राशन पत्रिका
  2. आधार कार्ड
  3. वोटर आई कार्ड

Ayushman Bharat Card कैसे बनाए

  1. सबसे पहले आपको अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र (Public Service Center) में जाना होगा।
  2. जहां केंद्र के अधिकारी सूची में आपका नाम चेक करेंगे।
  3. अगर आपका नाम आयुष्मान योजना लाभार्थी सूची में दर्ज होगा तभी आपको गोल्डन कार्ड मिलेगा।
  4. आपको अपने सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज जमा करने होंगे जैसे: आधार कार्ड, पैन कार्ड, पंजीकृत मोबाइल नंबर, राशन कार्ड की फोटो कॉपी, पास पोर्ट साइज फोटो आदि केंद्र के अधिकारी को।
  5. जिसके बाद आपका रजिस्ट्रेशन जन सेवा केंद्र अधिकारी द्वारा किया जाएगा।
  6. पंजीकरण के बाद, अधिकारी आपको पंजीकरण संख्या और पासवर्ड प्रदान करेंगे।
  7. पंजीकरण के 15 दिनों के भीतर आपका आयुष्मान गोल्डन कार्ड आप तक पहुंच जाएगा।

आयुष्मान भारत कार्ड के फायदे

  1. Ayushman Bharat Golden Card से देश के नागरिक अपने इलाज के लिए सरकारी और निजी अस्पतालों में जा सकते हैं।
  2. योजना के तहत गरीब लोगों को 5 लाख तक का मुफ्त इलाज मिल सकता है।
  3. आयुष्मान कार्ड योजना का लाभ 50 करोड़ से अधिक आवेदक उठा रहे हैं।
  4. इसके तहत लिखित में सभी काम कम कर दिए जाएंगे।
  5. आपको 15 दिनों के अंदर आयुष्मान गोल्डन कार्ड मिल जाएगा।

यह भी पढ़ें-

Related Posts

error: Content is protected !!