Menu Close

AM और PM का मतलब क्या होता है | जाने पूरी जानकारी

क्या आप जानते है AM और PM का मतलब क्या होता है ..वैसे सामान्य तौर पर हमे कभी इस AM और PM का पता नहीं चलता जब तक की हम सामान्य घड़ियों का इस्तेमाल करते थे. लेकिन जबसे वक्त को डिजिटल फॉर्मैट मे दिखाया जाता है, तबसे उसमे दिखाए गए वक्त को जोड़कर AM और PM का मतलब क्या होता होगा. यह सवाल हर एक के मन मे कभी ना कभी आता होगा. हालांकि, आप भी जानते होंगे की AM और PM का मतलब का इस्तेमाल कैसे 12 के समय से बेस पे किया जाता है, लेकिन इसका सही और अचूक क्या अर्थ होता है और इसके क्या मायने होते है; आईए जानते है.

AM और PM का मतलब क्या होता है

प्राचीन काल से घड़ियों की उत्पत्ति तक सम्पूर्ण मानव जाती दिन मे सूर्य देखकर और रात मे चाँद तारोंकी स्थिति को निरीक्षण करके वक्त का अंदाजा लगाया करते थे, तब कोई ऐसा पक्का या अचूक वक्त नहीं था. उदाहरण के तौर पर जैसे आज आप कह सकते हो की ‘दोहपर के दो बजे है’ या ‘रात के ग्यारह बजे है’. लेकिन तब के वक्त मे सुबह, दोपहर, श्याम और रात यही वक्त के चार परिमाण थे. लेकिन जब से वक्त को निश्चित बताने वाली घड़ियों की उत्पत्ति हुई है तब से एक-एक सेकंड को महत्व प्राप्त हुआ है.

इसे भी पढे: हाइड्रोजन बम का आविष्कार किसने किया था और कब हुआ

AM और PM का मतलब क्या होता है

AM (Ante Meridiem)

AM का फूल फॉर्म Ante Meridiem (अंटे मरेडीयम) होता है. यह एक लैटिन शब्द है, जिसमे meridies मतलब ‘मध्यान्ह’ या ‘दोहपर’ होता है और Ante का मतलब ‘पहले’ होता है. यानि Ante Meridiem मतलब दोहपर से पहले या मध्यान्ह से पहले होता है. रात के 12 को दूसरे दिन की शुरुवात होती है इसीलिए रात 12 के बाद से दिनके 12 से पहले के टाइम को AM लगाया जाता है. आसान भाषा मे कहे तो रात 12 बजे से दिन के 12 बजे तक का वक्त AM होता है.

इसे भी पढे: Train का आविष्कार किसने किया था और कब हुआ | जानें पूरा इतिहास

PM (Post Meridiem)

AM की तरह PM शब्द भी लैटिन भाषा से आता है. इसका फूल फॉर्म Post Meridiem होता है. इसका अर्थ दोहपर के बाद का समय होता है. दिन के 12 को दोहपर का संकेत माना गया है इसीलिए इसके बाद का वक्त को PM लगाना पड़ता है. आसान भाषा मे PM को दोहपर 12 बजे से रात 12 बजे तक लगाया जाता है. यह दोहपर के बाद की स्थिति को दर्शाता है.

हम उम्मीद करते है की आपको आपके सवाल का जवाब मिल चुका होगा. इस आर्टिकल को पढ़कर आपको समज आ गया होगा की AM और PM को कैसे दिन के मध्याह्न (दोहपर का समय) की पूर्व और बाद की स्थिति दर्शाने के लिए उपयोग किया जाता है.

इसे भी पढे: केसर इतना महंगा क्यों है और केसर के क्या फायदे है

जानकारी का सोर्स: विकिपिडिया और अन्य वेबसाईट

Related Posts