Menu Close

Airtel Vi से लेकर BSNL तक Jio में पोर्ट कराना चाहते हैं नंबर, जानें आसान प्रक्रिया

आज हम आपको Airtel, Idea Vodafone (Vi), BSNL सिम को Jio में Port कैसे करें, इसकी आसान प्रक्रिया को इस आर्टिकल में बताने जा रहे है। अगर आप अपनी टेलीकॉम ऑपरेटर कंपनी से खुश नहीं हैं तो आप कुछ आसान स्टेप्स से अपना सिम कार्ड किसी दूसरी कंपनी में पोर्ट करा सकते हैं। ज्यादातर यूजर्स Airtel, Idea, Vodafone, BSNL यूजर्स अपने सिम को जियो कंपनी में पोर्ट कराना चाहते हैं।

Airtel Vi से लेकर BSNL सिम को Jio में Port कैसे करें

Jio ने अपनी बेहतरीन सर्विस से भारत में एक नया इतिहास रच दिया था। जहां एक तरफ तमाम कंपनियां उपभोक्ताओं के पैसे लूटने में लगी थीं, वहीं Jio ने फ्री में 4जी डाटा डेकर देकर यूजर को चौंका दिया था। उसके बाद जहां बाकी कंपनियां 150 रुपये में एक महीने के लिए सिर्फ 1-1.5 जीबी डेटा दे रही थीं, वहीं Jio ने 1-2 जीबी दिन के लिए डेटा डेकर यूजर का मन जीत लिया। उसके बाद जियो ने अकेले ही तमाम टेलीकॉम कंपनियों का तेल निकाल दिया। आज के समय में जियो की मुख्य प्रतिद्वंदी कंपनी सिर्फ एयरटेल रही है। Idea और Vodafone (Vi) के Jio के आने के बाद ऐसी स्थिति बन गई कि ये दोनों कंपनियां एक होने को मजबूर हो गईं।

आज के दौर में Jio ने भारतीय ग्राहकों को बेहतर सर्विस प्लान से आकर्षित किया है। दूसरी कंपनियों के ग्राहक भी इसकी ओर आकर्षित हो रहे हैं। यहां तक ​​कि कई लोगों ने बाकी कंपनी से इस्तीफा देकर जियो को स्वीकार कर लिया है। अगर आप भी बिना नंबर बदले जियो की सर्विस लेना चाहते हैं तो आपको MNP की मदद लेनी होगी, इसका फुल फॉर्म Mobile Number Portability है। जिसे हम सरल शब्दों में एक कंपनी से दूसरी कंपनी में जाए बिना कह सकते हैं।

Airtel Vi से लेकर BSNL सिम को Jio में Port कैसे करें

MNP का इस्तेमाल कई सालों से किया जा रहा है। लेकिन सभी कंपनियों की सर्विस लगभग एक जैसी होने के कारण यूजर ने अपना नंबर सामान्य रूप से पोर्ट नहीं किया। लेकिन आज के समय में जहां Jio कंपनी यूजर्स को सस्ते प्लान के साथ बेहतर नेटवर्क स्पीड दे रही है। इसलिए यूजर का झुकाव Jio की ओर है। एयरटेल, Idea Vodafone (Vi), BSNL के ज्यादातर यूजर्स ने Jio का कनेक्शन लिया है। हमने नीचे दो आसान तरीके बताए हैं जिससे आप सिम कार्ड को आसानी से पोर्ट कर पाएंगे।

Jio सिम को ऑनलाइन पोर्ट कैसे करे

  • सबसे पहले आपको ‘Jio.com’ की इस आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इस साइट पर आपको ‘Port to Jio’ का ऑप्शन मिलेगा उस पर क्लिक करें।
  • यहां आपको उस सिम का नंबर डालना होगा जिसे आप पोर्ट करना चाहते हैं।
  • उस नंबर पर एक OTP आएगा, जिसे आपको वहां दर्ज करना होगा।
  • फिर आपको नई स्क्रीन पर मौजूद बॉक्स में अपने घर का पता, पिन नंबर, फ्लैट नंबर जैसे विवरण भरने होंगे।
  • अब ‘Submit’ पर क्लिक करके आपको सिम डिलीवरी रिक्वेस्ट के लिए सबमिट करना होगा।
  • इस प्रक्रिया के बाद आपके नंबर पर एक और OTP आएगा, जिसे जियो एग्जीक्यूटिव के आने पर उसे दिखाना होगा।

Jio सिम को SMS के जरिए पोर्ट कैसे करें

  • अपने सिम को पोर्ट करने के लिए आपको अपने फोन से 1900 पर एक SMS भेजना होगा।
  • इस मैसेज में आपको PORT के बाद स्पेस देकर अपना फोन नंबर डालना है।
  • उदाहरण के लिए, PORT 999XXXXXX (आपका नंबर) 1900 पर भेजें।
  • इस SMS को भेजने के कुछ समय बाद आपको मैसेज में एक Unique Porting Code मिलता है।
  • इस कोड के साथ आपको आधार कार्ड के साथ नजदीकी Jio Store में जाना होगा।
  • आधार कार्ड को कोड से लिंक करके स्टोर ऑपरेटर को देने के बाद आपको उसी नंबर का नया सिम कार्ड मिलता है।

यदि आपको उपरोक्त प्रक्रिया समझ में नहीं आती या पसंद नहीं आती है, तो आप अपना आधार कार्ड और अपना मोबाइल (जिसमें पोर्टिंग सिम कार्ड है) लेकर सीधे निकटतम जियो स्टोर पर जा सकते हैं। पोर्टिंग प्रक्रिया काफी सरल है, Jio प्रतिनिधि आपका नंबर पोर्ट करेगा और आपको 30 मिनट के भीतर एक नया Jio सिम देगा। जो 2-3 दिन में एक्टिव हो जाएगा। तब तक आप पुराने नंबर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

सिम पोर्ट के फायदे और नुकसान

अगर आप अपना सिम कार्ड पोर्ट कराना चाहते हैं तो आपका नंबर कम से कम तीन महीने पुराना होना चाहिए। इसके साथ ही उस सिम में कुछ बैलेंस होना भी जरूरी है, जिससे आप पोर्ट का मैसेज भेज सकें। जब आपको नया सिम कार्ड मिलता है, तो पिछले सिम में मौजूद राशि नए सिम में नहीं आती है। इसी के साथ अगर आप फिर से अपनी पुरानी या किसी नई कंपनी में सिम पोर्ट कराना चाहते हैं तो आपको फिर से तीन महीने का इंतजार करना होगा.

इसे भी पढे:

Related Posts